देशब्रेकिंग न्यूज़

दिनभर चले हाई वोल्टेज ड्रामा के बाद देर रात घर पहुंचे तेजिंदर बग्गा

दिल्ली भाजपा नेता तेजिंदर बग्गा की शनिवार मध्यरात्रि में मजिस्ट्रेट के सामने पेशी हुई। मामले में सुनवाई के बाद मजिस्ट्रेट ने बग्गा को घर भेज दिया है। मजिस्ट्रेट के सामने पेशी से पहले बग्गा को मोडिकल जांच के लिए दिल्ली के दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल ले जाया गया था।

शुक्रवार को दिनभर चले नाटकीय घटनाक्रम के बीच भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के राष्ट्रीय सचिव तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को दिल्ली पुलिस ने देर रात गुरुग्राम में मजिस्ट्रेट सिद्धा त्रिपाठी के आवास पर पेश किया। जिसके बाद वह अपने घर के लिए रवाना हो गए, बयान सोमवार को दर्ज होंगे। मजिस्ट्रेट ने बग्गा और उनके परिवार को सुरक्षा मुहैया कराने का निर्देश दिया। साथ ही बताया जा रहा है कि मजिस्ट्रेट के सामने पेशी से पहले बग्गा को मेडिकल जांच के लिए दिल्ली के दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल ले जाया गया था। बग्गा की पीठ और कंधे में चोट लगी है।

मीडिया से बातचीत में AAP पर साधा निशाना

बग्गा ने अपने आवास के बाहर मीडियाकर्मियों से बात करते हुए समर्थन करने के लिए हरियाणा और दिल्ली पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं का आभार व्यक्त किया। साथ ही उन्होंने आम आदमी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग मानते हैं कि वे पुलिस की मदद से कुछ भी कर सकते हैं। मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि भाजपा कार्यकर्ता किसी से नहीं डरेगा। मैं हरियाणा और दिल्ली पुलिस और सभी भाजपा कार्यकर्ताओं को मेरा समर्थन करने के लिए धन्यवाद देता हूं। दिल्ली पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज की है और लोग संबंधितों को दंडित किया जाएगा

छापा मारकर बग्गा को किया गिरफ्तार

गौरतलब है कि तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ की गई टिप्पणी के लिए पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार किया था। उन्हें उनके जनकपुरी स्थित आवास से शुक्रवार सुबह अचानक छापा मारकर गिरफ्तार किया गया। बग्गा की गिरफ्तारी की भनक लगते ही दिल्ली में भाजपा का विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया। वहीं, स्वजनों की शिकायत पर दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस के खिलाफ अपहरण, लूट, डकैती सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर हरियाणा पुलिस के सहयोग से बग्गा को मुक्त करा लिया।

हाई कोर्ट पहुंची पंजाब पुलिस

दिल्ली पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ पंजाब पुलिस ने पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट पहुंच गई है। कोर्ट ने शनिवार तक हरियाणा सरकार और दिल्ली पुलिस को जवाब दाखिल करने के आदेश दिए। शुक्रवार सुबह पंजाब पुलिस ने छापामार कार्रवाई करते हुए बग्गा को गिरफ्तार किया। जिसके बाद वो उसे लेकर घर से पंजाब के लिए रवाना हो गए। बग्गा की गिरफ्तारी की खबर फैलते ही दिल्ली का सियासी पारा चढ़ गया। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता के नेतृत्व में अन्य कार्यकर्ता तेजिंदर के पिता प्रीतपाल को लेकर जनकपुरी थाने पहुंचे और पंजाब पुलिस के खिलाफ अपहरण, लूट, डकैती, मारपीट व अन्य धाराओं में शिकायत दी।

नाटकीय ढंग से हुई बग्गा की दिल्ली वापसी

दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर, हरियाणा पुलिस को वायरलेस मैसेज भेजकर पंजाब पुलिस की गाड़ियों को राउंड अप करने का आग्रह किया। बताया गया कि बग्गा का अपहरण किया गया है। कुरुक्षेत्र पुलिस ने सुबह 10:30 बजे गांव खानपुर कोलिया में विश्वास फिलिंग स्टेशन के सामने जीटी रोड पर नाका लगा दिया। उसने करीब 10:45 बजे पंजाब नंबर की दो बोलेरो गाडि़यों को रुकवाया। तभी वहां हरियाणा के अन्य जिलों के पुलिस अधिकारी वहां पहुंच गए। लंबी बातचीत के बाद दोपहर करीब 2:45 बजे दिल्ली पुलिस बग्गा को लेकर रवाना हो गई। इसके बाद शाम को करीब सवा चार बजे पंजाब पुलिस के एडीजीपी शरद चौहान कुरुक्षेत्र पहुंचे। यहां हरियाणा व पंजाब पुलिस के आला अधिकारियों के साथ लंबी बैठक चली।

बग्गा के इस बयान पर है बवाल

बग्गा ने पंजाब एवं हरियाणा हाई कोर्ट में दायर याचिका में कहा है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अर¨वद केजरीवाल ने कश्मीर पर बयान दिया था। जिस पर आपत्ति जताते हुए उन्होंने कहा था कि जब तक केजरीवाल कश्मीरियों के खिलाफ अपने बयान के लिए माफी नहीं मांगते हैं तब उन्हें जीने नहीं देंगे। लेकिन, उनके इस बयान को काट कर पेश कर दिया गया कि उन्होंने कहा है की वह जीने नहीं देंगे। आप के पंजाब प्रवक्ता सन्नी आहलूवालिया की शिकायत पर गत एक अप्रैल को मोहाली साइबर सेल में मामला दर्ज किया गया था। जांच में सहयोग नहीं करने का आरोप लगाकर क्राइम इन्वेस्टीगेशन एजेंसी (सीआइए) मोहाली ने गुरुवार को बग्गा के खिलाफ एक नई शिकायत दर्ज की थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button