राजनीति

वोटिंग का बहिष्कार गांव वालों का फैसला सामने आई ये वजह

यूपी विधानसभा चुनाव में जहां एक तरफ चुनाव में अधिक से अधिक वोटिंग करने को लेकर जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है.

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) के तहत आज पहले चरण (Phase 1 Polling UP Chunav 2022) का मतदान हो रहा है. इस चरण में राज्य के 11 जिलों की 58 सीटों पर मतदान हो रहा है. इन 11 जिलों में नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ, शामली और मुजफ्फरनगर भी शामिल हैं. एक बजे तक करीब 35 फीसदी मतदान हुआ है.

वोटिंग का बहिष्कार

यूपी विधानसभा चुनाव में जहां एक तरफ चुनाव में अधिक से अधिक वोटिंग करने को लेकर जागरुकता अभियान चलाया जा रहा है. वहीं दूसरी तरफ मेरठ के एक गांव में वोट का बहिष्कार किया जा रहा है. मेरठ के कैंट विधानसभा क्षेत्र के दायमपुर गांव की है, जहां लोगों ने वोट डालने से इनकार कर दिया है. गांव का पोलिंग बूथ सुना पड़ा है. सड़कों का बुरा हाल है और गांव में विकास कार्य ना होने और हाईवे पर कट बंद होने को लेकर लोगों ने वोट बहिष्कार कर दिया है. बकायदा ग्रामीणों में इसके लिए गांव में पोस्टर चस्पा कर दिए हैं. जो लोग वोट डालने की कोशिश भी कर रहे हैं उन्हें भी रोका जा रहा है. दिन में करीब 12:00 बजे तक पोलिंग बूथ में केवल 3 ही लोगों ने मतदान किया है. वही गांव के लोगों को समझाने और मनाने के लिए ना तो अभी तक कोई पुलिस प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं ना ही कोई नेता पहुंचे हैं. ग्रामीणों में पुलिस प्रशासन और नेताओं के खिलाफ भारी आक्रोश है. वही पोलिंग बूथ के पीठासीन अधिकारी ने जिले के आला अधिकारियों को चुनाव बहिष्कार की सूचना दे दी है .

आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी

पहले चरण में हो रही वोटिंग को लेकर राजनीतिक दलों ने एक दूसरे के खिलाफ आरोप लगाए हैं. सहारनपुर में अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा सपा और रालोद के समर्थक लोगों को डरा धमका रहे हैं. इसके लिए बीजेपी नेताओं ने चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराई है. वहीं सपा ने भी पहले चरण में हो रहे मतदान को लेकर आरोप लगाए है. सपा का कहना है कि कैराना और शामली में वोटरों को धमकी दी जा रही और उन्हें लाइन से हटाया जा रहा है. साथ ही सपा ने आरोप लगाया है कि मेरठ की सिवालखास विधानसभा 43, बूथ संख्या 81, 82 पर वोट डालने पहुंच रहे मतदाताओं को कहकर लौटाया जा रहा है कि आपका मतदान हो चुका है.  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button