देशब्रेकिंग न्यूज़

बिजनौर में फैली आग से लोगों में दहशत

रिलायंस ट्रेंड्स में अचानक से शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लग गई

रिलायंस ट्रेंड्स में अचानक से शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लग गई। आग लगने के कारण जहां शोरूम में रखे लाखों रुपए के कपड़े जलकर राख हो गए। तो वही शोरूम से सटे सिविल लाइन फर्स्ट कॉलोनी के तीन से चार मकान आग लगने के कारण पूरी तरीके से क्षतिग्रस्त हो गए हैं। इस मकान में रहने वाले लोगों का कहना है कि शोरूम बनने के दौरान मानकों का पालन ना करने के कारण यह हादसा हुआ है। इस हादसे के कारण सिविल लाइन फर्स्ट मोहल्ले के रहने वाले करीब तीन से चार परिवार के लोगों के घर पूरी तरीके से क्षतिग्रस्त होने के कारण यह लोग मोहल्ले में रात के अंधेरे में घर छोड़कर बाहर रहने को मजबूर हैं। वही यह सभी लोग अपने आशियाने की तलाश में अपना घर छोड़कर जा रहे है।

बिजनौर के नजीबाबाद रोड पर अचानक से दोपहर में रिलायंस ट्रेंड्स शोरूम में शार्ट सर्किट की वजह से आग लगने के कारण जहां लाखों रुपए का नुकसान शोरूम मालिक को हुआ है। तो वहीं शोरूम से सटे सिविल लाइंस फर्स्ट मोहल्ले के रहने वाले 3 से 4 परिवार के लोगों का घर बुरी तरीके से आग की तेज़ लपटों के कारण घरों में दरार आ गई है। दरार आने के कारण घर के लोग अपना सामान लेकर दूसरी जगह जाने को मजबूर हैं। मोहल्ले के दर्जनों रह रहे लोगों का आरोप है कि इस शोरूम को बनाते हुए कहीं ना कहीं मानकों का पालन नहीं किया गया है। जिसके कारण यह हादसा होने पर उनका मकान पूरी तरीके से क्षतिग्रस्त हो चुका है

और मोहल्ले के करीब दर्जनों लोग अपने मकानों को छोड़कर दूसरी जगह रहने को मजबूर है। मोहल्ले के रहने वाले अजीज का आरोप है कि रिलायंस ट्रेंड्स शोरूम बनने के दौरान उन्होंने इसकी शिकायत शोरूम के बने जमीन मालिक आशीष जैन से दीवार घरों से सटी होने को लेकर किसी अनहोनी की आशंका जताते हुए विरोध किया था। आशीष जैन द्वारा उनको शोरूम से 8 फीट की कुछ दूरी पर ही निर्माण कार्य करने को लेकर आश्वासन देते हुए इस शोरूम का निर्माण कार्य करवाया गया था।

लेकिन बाद में सुरक्षा व्यवस्था को देखते हुए जो जगह छोड़ी गई थी उसमें निर्माण कार्य कराते हुए सिविल लाइन फर्स्ट मोहल्ले से सटे कुछ घरों के मकानों की दीवारों से इनकी पिछली दीवार को जोड़ दिया गया था। जिसके कारण हुए इस हादसे के एवज में तीन से चार मकान पूरी तरीके से क्षतिग्रस्त हो चुके हैं। कहीं ना कहीं लोगों का यह भी कहना है कि शोरूम मानकों के अनुरूप ना बनने के कारण जिन लोगों के मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं।

उसका जिम्मेदार प्रशासन भी है। मकान क्षतिग्रस्त को लेकर मोहल्ले के दर्जनों लोग डीएम से मिले थे।डीएम के आदेश पर तहसीलदार ने मौके का निरीक्षण करके लोगों को आश्वासन तो जरूर दिया है।लेकिन इस आग की वजह से हुई तबाही के कारण मोहल्ले के दर्जनों लोग अपना सामान उठाकर बाहर जाने को मजबूर है।

बाईट।अजित।पीड़ित

रिपोर्ट।अरशद ज़ैदी।बिजनौर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button