देशब्रेकिंग न्यूज़

सम्भल में 11वां जश्ने वारिस पाक में दूरदराज के लोगों ने की शिरकत

कार्यक्रम की शुरुआत नमाज जोहर कुरान ख्वानी से हुई

सम्भल में 11वां जश्ने सरकार वारिस पाक धूमधाम से मनाया गया। जिसमे दूरदराज से आए लोगो ने शिरकत कर मन्नते मांगी। महाराष्ट्र से आए उलेमा ने तकरीर करते हुए पंजतन पाक के बताए रास्ते पर चलने का आह्वान किया। इस दौरान मुल्क में अमन शांति की दुआ की गई। सुबह कुल के बाद लोगों को तबर्रुक बांटा गया।

जनपद सम्भल के सदर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला कोट गर्वी में वारसी ब्रदर्स एंड संस एंड ब्लास्टर जींस दिल्ली की जानिब से वारसी मंजिल पर 11वे जश्ने सरकार वारिस पाक भव्य रूप से मनाया गया। कार्यक्रम की शुरुआत बाद नमाज जोहर कुरान ख्वानी से हुई। बाद नमाजे असर नज़र मौला ए कायनात की नज़र पेश की गई। बाद नमाज मगरिब लंगर व बाद नमाज ईशा जश्न का आगाज हुआ। जश्न का आगाज़ तिलावते कुरान पाक से हुआ। इसके बाद सम्भल व दिल्ली से आये शायरों ने नाते पाक पेशकर नज़राने हासिल किये। महाराष्ट्र मुंबई से तशरीफ लाए अल्लामा शफीक उल कादरी हनफी ने तकरीर करते हुए लोगों की इस्लाह की साथ ही लोगों से पंजतन पाक के नक्शे कदम पर चलने का आह्वान किया।

पूरी रात चलें प्रोग्राम में सुबह सादिक चार बजकर 13 मिनट पर कुल शरीफ की रस्म अदा की गई। सलातो सलाम के बाद मुल्क में अमन शांति को दुआ की गई। अंत में सभी को तबर्रुक बांटा गया। प्रोग्राम में मुख्य रुप से साद महमूद वारसी, मोहम्मद अली वारसी व वारिस महमूद वारसी मेहमानों खुसूसी के तौर पर मौजूद रहे। परवेज वारसी ने बताया कि सम्भल में सरकार जश्ने वारिस पाक हुआ। जश्न में दूरदराज से आए लोगों ने हिस्सा लिया। बाद नमाज जोहर कुरान ख्वानी, बाद नमाजे असर नज़र मौला ए कायनात की नज़र पेश हुई, बाद नमाज मगरिब लंगर व बाद नमाज ईशा जश्न का आगाज हुआ। जश्न का आगाज़ तिलावते कुरान पाक से हुआ। इसके बाद शायरों ने नाते पाक पेश की। महाराष्ट्र मुंबई से तशरीफ लाए अल्लामा शफीक उल कादरी हनफी ने तकरीर करते हुए लोगों की इस्लाह की साथ ही लोगों से पंजतन पाक के नक्शे कदम पर चलने का आह्वान किया।

बाईट – परवेज़ वारसी, अक़ीदतमंद

रिपोर्टर – उवैस दानिश

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button