लाइफस्टाइल

भारत में कोरोना का पहला Nasal Spray फैबीस्प्रे लांच, (एनओएनएस) मरीजों के लिए सुरक्षित और प्रभावी है।

ग्लेनमार्क को भारत के दवा नियामक ‘ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया’ से स्प्रे के निर्माण एवं विपणन की मंजूरी मिल गई है।

आविष्कारों में विशेष रुचि रखने वाली मुंबई स्थित फार्मा कंपनी ग्लेनमार्क ने भारत में कोविड-19 से जूझने वाले युवा मरीजों के उपचार के लिए निट्रिक ऑक्साइड नेजल स्प्रे (फैबीस्प्रे) नाम से पहला नेजल स्प्रे लांच किया है। अभिनव बायोटेक कंपनी ‘सेनोटाइज’ कंपनी उसकी साझेदार है। ग्लेनमार्क को भारत के दवा नियामक ‘ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया’ से स्प्रे के निर्माण एवं विपणन की मंजूरी मिल गई है। एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि भारत में दवा का तीसरे चरण का परीक्षण प्रमुख अंतिम बिंदुओं को पूरा करता है और  24 घंटों में वायरल लोड में 94 प्रतिशत और 48 घंटों में 99 प्रतिशत की कमी को दर्शाता है। कहा गया कि निट्रिक ऑक्साइड नेजल स्प्रे (एनओएनएस) मरीजों के लिए सुरक्षित और प्रभावी है। ग्लेनमार्क कंपनी फैबीस्प्रे ब्रांड नाम से एनओएनएस को बेचेगी। कंपनी का दावा है कि जब यह स्प्रे नाक की श्लेषमल झिल्ली के ऊपर छिड़का गया है तो इसने कोरोना वायरस के खिलाफ एक भौतिक और रासायनिक अवरोधक के तौर पर काम किया है। स्प्रे को कोविड-19 के खिलाफ असरदार व सुरक्षित एंटीवायरल उपचार बताते हुए ग्लेनमार्क फार्मासूटिकल्स लिमिटेड के चीफ कमर्शियल ऑफिसर रॉबर्ट क्रोकार्ट ने कहा कि हमें यकीन है कि यह मरीजों को एक बहुत ही आवश्यक और समयानुकूल चिकित्सा विकल्प प्रदान करेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button