उत्तर प्रदेशबाराबंकीब्रेकिंग न्यूज़

बाराबंकी में इंटर स्टेट ऑटोलिफ्टरो गैंग का पुलिस ने किया भंडाफोड़

बाराबंकी की फतेहपुर कोतवाली पुलिस की टीम ने रविवार को एक इंटर स्टेट ऑटो लिफ्टरो के गिरोह का भंडाफोड़ करके कब्जे से विभिन्न स्थानो से चुराई गई 11 मोटर साईकिले बरामद करके पुलिस चार ऑटो लिफ्टरो को जेल भेज दिया है।

बाराबंकी की फतेहपुर कोतवाली पुलिस की टीम ने रविवार को एक इंटर स्टेट ऑटो लिफ्टरो के गिरोह का भंडाफोड़ करके कब्जे से विभिन्न स्थानो से चुराई गई 11 मोटर साईकिले बरामद करके पुलिस चार ऑटो लिफ्टरो को जेल भेज दिया है।एएसपी नार्थ आशुतोष मिश्र ने गिरफ्तारी के बाद रविवार को ही आयोजित एक पत्रकार वार्ता मे खुलासा करके विभिन्न जानकारियां साझा की और बताया कि ये लोग काफी समय से आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे रहे थे और इस बीच मोटर साईकिलो को चुराकर उनकी नंबर प्लेट बदल कर उसे ग्राहकों को बड़ी ही आसानी से बेच दिया करते थे। फतेहपुर रामनगर मार्ग पर मुखबिर की सूचना पर एक्टिव पुलिस टीम ने जिले के मसौली थानाक्षेत्र के जलुहामऊ गांव के रहने वाले लाल जी यादव को रोककर उसके पास मौजूद मोटर साईकिल के कागजात मांगे तो लाल जी कागजात दिखा नही सका जिसपर पुलिस ने उसके बारे मे पता लगाना शुरू किया तो पुलिस को पता चला कि लाल जी पुराना हिस्ट्रीशीटर बदमाश है और उसको न्यायालय ने एक आपराधिक वारदात मे सजा भी सुनाई थी जो एक इंटर स्टेट ऑटो लिफ्टर गैंग का सरगना उसके गैंग मे जिले के बदोसराय थाना व कस्बे के रहने वाला हिस्ट्रीशीटर ओम प्रकाश यादव पुत्र जबाहिर व बहराइच जिले के दो ऑटो लिफ्टरो बासुदेव पुत्र फौजदार टेपरा सही थाना हरदी बहराइच व सूरज यादव पुत्र लाल बहादुर निवासी अहिरनपुरवा थाना हरदी बहराइच को गिरफ्तार करके ऑटो लिफ्टरो के गैंग का भंडाफोड़ किया है और इनकी निशांदेही पुलिस ने अलग अलग जगहों से मास्टर चाबी के जरिए मोटरसाईकिलो को आसानी से चुरा लिया करते थे। वहीं भंडाफोड़ के बाद एएसपी नार्थ आशुतोष मिश्र ने कहा कि इस गैंग का सिर्फ मोटर साईकिलो को चुराने वाले गैंग मे लालजी यादव पुत्र रामविलास निवासी जलुहामऊ पतिहापुर थाना मसौली है जो पूर्व का हिस्ट्रीशीटर अपराधी है उसके ऊपर पुलिस के द्वारा कई बार कार्यवाई की जा चुकी है और एक मामले मे उसे सजा भी हो चुकी है फिलहाल अपील पर बाहर था।वहीं जिले के ही बदोसराय के रहने वाले ओम प्रकाश पुत्र जबाहीर सरगना है और उसके विरुद्ध पूर्व मे बदोसराय थाने मे धारा 302 के मामले मे सजा हो चुकी है जो जमानत पर छूटकर अपराध मे फिर शामिल हो गया। जबकि दो ऑटो लिफ्टर बहराइच जिले के निवासी है जिनमे सूरज यादव पुत्र लाल बहादुर व बासुदेव पुत्र फौजदार शामिल है जो मोटर साईकिलो को चुराकर आसानी से ग्राहकों को बेचते थे। रिपोर्ट:-अंकित मिश्रा/बाराबंकी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button