देशब्रेकिंग न्यूज़

सम्भल में मौलाना आजाद डे पर हुआ पुरस्कार वितरण

छात्र-छात्राओं को शील्ड व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया

सम्भल में मौलाना आज़ाद नेशनल उर्दू यूनिवर्सिटी में देश के प्रथम शिक्षा मंत्री मौलाना अबुल कलाम आज़ाद के जन्मदिन के अवसर पर प्रतिवर्ष एक सप्ताह तक विभिन्न समारोह का आयोजन किया जाता है। जिसे आजाद दिवस समारोह के नाम से जाना जाता है। अतः इस वर्ष भी सम्भल यूनिवर्सिटी में आजाद दिवस समारोह 2022 के उपलक्ष में विभिन्न प्रतियोगिताओ का आयोजन एक सप्ताह तक किया गया। प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रथम, द्वितीय व तृतीय छात्र-छात्राओं को शील्ड व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।

शुक्रवार को मौलाना आजाद नेशनल यूनिवर्सिटी के तत्वाधान में सम्भल में चल रहे दिल्ली रोड, बदायूं दरवाजा स्थित कॉलेज ऑफ टीचर एजुकेशन में मौलाना आजाद दिवस धूमधाम के साथ मनाया गया। एक सप्ताह तक चलने वाले प्रोग्रामों के अंतर्गत खेल प्रतियोगिता, साहित्य प्रतियोगिता, विचार गोष्ठी, स्पीच प्रतियोगिता, गायन प्रतियोगिता के अलावा अन्य प्रोग्राम का भी आयोजन किया गया। छात्र-छात्राओं के उत्साहवर्धन के लिए 11 नवंबर मौलाना आजाद डे पर सभी प्रथम, द्वितीय व तृतीय आने वाले छात्र छात्राओं को शील्ड व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस दौरान वक्ताओं ने अपने विचार रखते हुए मौलाना आजाद की जिंदगी पर रोशनी डालते हुए उनके बताए हुए रास्ते पर चलने का आह्वान किया साथ ही लोगों से अपील की, जिस तरह मौलाना आजाद ने शिक्षा के क्षेत्र में बढ़-चढ़कर योगदान दिया व वह देश के शिक्षा मंत्री बने। इसी तरह उनके बताए हुए रास्ते पर चलते हुए छात्र छात्राओं को उनके रास्ते पर चलते हुए ऊंचाइयों को छूने के लिए उनके किरदार को अपने अंदर सम्मोहित करने पर बल दिया। इस दौरान आजाद डे के उपलक्ष में नामचीन हस्तियों ने हिस्सा लेकर अपने-अपने विचार छात्र-छात्राओं तक पहुंचाएं। अलीगढ़ से आए प्रोफेसर ने छात्र छात्राओं को मौलाना आजाद के पद चिन्ह पर चलने का आह्वान करते हुए जनता से अपील की की हिंदू मुस्लिम एकता के साथ जो मौलाना आजाद का मिशन था शिक्षा को बढ़ावा दें। डॉ. मो. साहिल खान, प्रिंसिपल, मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी, कॉलेज ऑफ टीचर एजुकेशन सम्भल ने बताया कि मौलाना आजाद के जन्मदिन पर एक सप्ताह तक विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया जिसमें प्रथम द्वितीय व तृतीय आने वाले छात्र-छात्राओं को शील्ड व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया और छात्र छात्राओं को मौलाना आजाद के बताए हुए रास्ते पर चलते हुए उनके आदर्शों को अपनाने का आह्वान किया गया। इस दौरान डॉ शहजाद, कायनात स्कूल के प्रिंसिपल सहित बुद्धिजीवी लोग मौजूद रहे।

बाईट – डॉ साहील खान, प्रिंसिपल

रिपोर्टर – उवैस दानिश

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button