बिज़नेसब्रेकिंग न्यूज़

United Nations ने की भारत के लिए फक्र की बात

Fastest growing major economy महंगाई की मार के सवाल पर UN ने कहा कि भारत पर इसका असर कम होगा।

कारोबारी साल 2023 में भारत की इकोनॉमी 6.4 फीसद की दर से बढ़ेगी। यह अनुमान सामने आने के बाद भारत के लिए संयुक्‍त राष्‍ट्र (United nations, UN) ने बड़े फक्र की बात कही है। UN का कहना है कि भारत दुनिया में तेजी से बढ़ने वाली इकोनॉमी होगा। संयुक्‍त राष्‍ट्र के ग्‍लोबल इकोनॉमिक मॉनिटरिंग रिसर्च के मुख्‍य हामिश रशीद ने कहा कि अगले साल और उसके बाद भी भारतीय इकोनॉमी की ग्रोथ की रफ्तार कायम रहेगी।

उनके मुताबिक वैश्विक विकास दर 3.1 फीसद बने रहने का अनुमान है। भारत का GDP, जो इकोनॉमी की सेहत को दर्शाता है, अगले वित्‍त वर्ष में 6 फीसद तक जा सकता है। WESP के मुताबिक बीते वित्‍त वर्ष में भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था 8.8 फीसद की दर से बढ़ी। हालांकि अनुमान 9 फीसद का आया था। रिपोर्ट के मुताबिक महंगाई की मार और लेबर मार्केट में स्‍लो रिकवरी के कारण 2022-23 में ग्रोथ का अनुमान नीचे रखा गया है। लेबर ग्रोथ रिकवरी धीमी होने के कारण निवेश पर भी असर पड़ेगा। यूक्रेन और रूस के बीच लड़ाई के कारण मौजूदा वित्‍त वर्ष में ग्रोथ का अनुमान जनवरी के आंकड़े से 0.3 फीसद घटाया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button