राजनीति

भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी की सुरक्षा में हुई चूक,कांग्रेस ने गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखी

कांग्रेस ने 28 दिसंबर को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर 'भारत जोड़ो यात्रा' की सुरक्षा में चूक होने का मुद्दा उठाया है।जी हाँ कांग्रेस ने पार्टी नेता राहुल गांधी के लिए उचित सुरक्षा की मांग भी की है। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने गृह मंत्री को लिखे पत्र में कहा कि शनिवार को दिल्ली में यात्रा के प्रवेश के बाद कई बार सुरक्षा से समझौता किया गया। इसके अलावा पत्र में कहा गया है कि दिल्ली पुलिस,जो केंद्रीय गृह मंत्रालय के अंतर्गत आती है, "बढ़ती भीड़ को नियंत्रित करने और राहुल गांधी के चारों ओर एक परिधि बनाए रखने में पूरी तरह से विफल रही,जिन्हें जेड प्लस सुरक्षा दी गई है,साथ ही पत्र में ये भी कहा गया है कि स्थिति इतनी गंभीर थी कि गांधी के साथ चल रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं और भारत यात्रियों को एक सुरक्षा घेरा बनाना पड़ा. दिल्ली पुलिस "मूक दर्शक" बनी रही।साथ ही विपक्षी दल द्वारा यह भी आरोप लगाया कि खुफिया ब्यूरो यात्रा में भाग लेने वाले लोगों से पूछताछ कर रहा है. कांग्रेस नेता वेणुगोपाल ने हरियाणा के गुरुग्राम में पार्टी की एक पुलिस शिकायत का भी हवाला दिया. बता दें कि हरियाणा में बीजेपी की गठबंधन सरकार है।इसके अलावा पत्र में कहा गया था कि प्रत्येक नागरिक को पूरे भारत के क्षेत्र में घूमने का संवैधानिक अधिकार है. इसमें कहा गया है "भारत जोड़ो यात्रा देश में शांति और सद्भाव लाने के लिए एक पदयात्रा है. सरकार को बदले की राजनीति में शामिल नहीं होना चाहिए और कांग्रेस नेताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए।देश की एकता के लिए इंदिरा गांधी और राजीव गांधी सहित कांग्रेस नेताओं के बलिदान का हवाला देते हुए कांग्रेस पार्टी ने यात्रा और राहुल गांधी के लिए बेहतर सुरक्षा की मांग की है.अब यात्रा पंजाब और जम्मू कश्मीर में प्रवेश करेगी।आगे पत्र में लिखा कि भारत जोड़ो यात्रा 3 जनवरी, 2022 से शुरू होने वाले अगले चरण में संवेदनशील राज्य पंजाब और जम्मू-कश्मीर में प्रवेश करने के लिए तैयार है. इस संबंध में, मैं आपसे राहुल गांधी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कदम उठाने का अनुरोध करता हूं।कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने मीडिया को संबोधित करते हुए यात्रा को रोकने के लिए एक "साजिश" का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, "यात्रा को बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है. जो लोग इसे बाधित करना चाहते हैं वे अपनी पुलिस,अपने मीडिया के माध्यम से प्रयास कर रहे हैं. वे सफल नहीं होंगे।

कांग्रेस ने 28 दिसंबर को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को पत्र लिखकर ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की सुरक्षा में चूक होने का मुद्दा उठाया है।जी हाँ कांग्रेस ने पार्टी नेता राहुल गांधी के लिए उचित सुरक्षा की मांग भी की है। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने गृह मंत्री को लिखे पत्र में कहा कि शनिवार को दिल्ली में यात्रा के प्रवेश के बाद कई बार सुरक्षा से समझौता किया गया। इसके अलावा पत्र में कहा गया है कि दिल्ली पुलिस,जो केंद्रीय गृह मंत्रालय के अंतर्गत आती है, “बढ़ती भीड़ को नियंत्रित करने और राहुल गांधी के चारों ओर एक परिधि बनाए रखने में पूरी तरह से विफल रही,जिन्हें जेड प्लस सुरक्षा दी गई है,साथ ही पत्र में ये भी कहा गया है कि स्थिति इतनी गंभीर थी कि गांधी के साथ चल रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं और भारत यात्रियों को एक सुरक्षा घेरा बनाना पड़ा. दिल्ली पुलिस “मूक दर्शक” बनी रही।साथ ही विपक्षी दल द्वारा यह भी आरोप लगाया कि खुफिया ब्यूरो यात्रा में भाग लेने वाले लोगों से पूछताछ कर रहा है. कांग्रेस नेता वेणुगोपाल ने हरियाणा के गुरुग्राम में पार्टी की एक पुलिस शिकायत का भी हवाला दिया. बता दें कि हरियाणा में बीजेपी की गठबंधन सरकार है।इसके अलावा पत्र में कहा गया था कि प्रत्येक नागरिक को पूरे भारत के क्षेत्र में घूमने का संवैधानिक अधिकार है. इसमें कहा गया है “भारत जोड़ो यात्रा देश में शांति और सद्भाव लाने के लिए एक पदयात्रा है. सरकार को बदले की राजनीति में शामिल नहीं होना चाहिए और कांग्रेस नेताओं की सुरक्षा सुनिश्चित करनी चाहिए।देश की एकता के लिए इंदिरा गांधी और राजीव गांधी सहित कांग्रेस नेताओं के बलिदान का हवाला देते हुए कांग्रेस पार्टी ने यात्रा और राहुल गांधी के लिए बेहतर सुरक्षा की मांग की है.अब यात्रा पंजाब और जम्मू कश्मीर में प्रवेश करेगी।आगे पत्र में लिखा कि भारत जोड़ो यात्रा 3 जनवरी, 2022 से शुरू होने वाले अगले चरण में संवेदनशील राज्य पंजाब और जम्मू-कश्मीर में प्रवेश करने के लिए तैयार है. इस संबंध में, मैं आपसे राहुल गांधी की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तत्काल कदम उठाने का अनुरोध करता हूं।कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने मीडिया को संबोधित करते हुए यात्रा को रोकने के लिए एक “साजिश” का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, “यात्रा को बदनाम करने का प्रयास किया जा रहा है. जो लोग इसे बाधित करना चाहते हैं वे अपनी पुलिस,अपने मीडिया के माध्यम से प्रयास कर रहे हैं. वे सफल नहीं होंगे।    

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button