देशब्रेकिंग न्यूज़

UP के छोटे शहरों में घर बनाने वालों को राहत, कम मलबा शुल्क में पास हो जाएगा नक्‍शा

यूपी के छोटे शहरों में घर बनाने वालों को सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने राहत दी है। विकास प्राधिकरण अब मनमाने तरीके से मलबा शुल्क (अंबार शुल्क) की वसूली नहीं कर पाएंगे।

यूपी के छोटे शहरों में घर बनाने वालों को सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने राहत दी है। विकास प्राधिकरण अब मनमाने तरीके से मलबा शुल्क (अंबार शुल्क) की वसूली नहीं कर पाएंगे। मलबा शुल्क का भुगतान अब हर शहर में अलग – अलग होगा। बड़े शहरों में अधिक तो छोटे शहरों में कम शुल्क देना होगा। गाजियाबाद में 1000 वर्ग मीटर क्षेत्र में होने वाले निर्माण पर 50 रुपये प्रति वर्ग मीटर और अयोध्या में 30 रुपये प्रति वर्ग मीटर के हिसाब से शुल्क का प्रस्ताव है। लखनऊ, कानपुर व आगरा में यह शुल्क 45 रुपये होगा। विकास प्राधिकरण और आवास विकास परिषद से नक्शा पास कराने वालों को अंबार शुल्क देना होता है। इसके लिए अभी तक कोई स्पष्ट नियमावली नहीं था। आवास विभाग ने अंबार शुल्क नियमावली बनाते हुए कैबिनेट के समक्ष प्रस्ताव रखा था। इसमें सभी शहरों के लिए एक समान शुल्क की व्यवस्था की गई थी। मुख्यमंत्री ने आवास विभाग को सुझाव दिया कि एक समान सभी शहरों से शुल्क लेना तर्क संगत नहीं होगा। दरों का निर्धारण शहर के हिसाब से तय किया जाना चाहिए। आवास विभाग ने इसके आधार पर संशोधित नियमावली का प्रारूप तैयार किया है। इसे जल्द ही कैबिनेट के समक्ष मंजूरी के लिए रखा जाएगा।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button