उत्तर प्रदेशदेशराजनीति

4 अक्टूबर को मुलायम सिंह ने रखी थी पार्टी की बुनियाद

4 अक्टूबर 1992 का दिन समाजवादियों के लिए यादगार

दिल्ली- 4 अक्टूबर 1992 का दिन समाजवादियों के लिये एक यादगार दिन होता है,दरअसल आज की के दिन मुलायम सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी की बुनियाद रखी थी।समाजवाद के जनक डा राममनोहर लोहिया की विचारधारा से प्रभावित होकर मुलायम सिंह यादव ने एक नये सियासी दल की बुनियाद रखी जो सूबे की सियासत में काफी कम समय में धुरी बनकर उभरी। खुद मुलायम सिंह यादव तीन बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के पद पर काबिज हुये और एक बार अपने पुत्र अखिलेश यादव को मुख्यमंत्री बनाकर पूरी पार्टी की बागडोर अपने सुपुत्र अखिलेश यादव को सौंप दी ।खुद मुलायम सिंह यादव आज भी समाजवादी पार्टी के संरक्षक की भूमिका में हैं।

स्थापना दिवस का इस बार का जश्न समाजवादियो के लिये काफी फीका है,क्योकिं पार्टी के जनक मुलायम सिंह यादव गुरूग्राम के मेदांता में गंभीर हालत में भर्ती हैं।मेदांता में मुलायम फिलहाल वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखे गये हैं,और अस्पताल के वरिष्ठ चिकित्सकों की देखरेख में मुलायम सिंह यादव का ईलाज जारी है।जो जानकारी अस्पताल के सूत्रो से मिल रही है उसके मुताबिक मुलायम सिंह यादव की तबियत में काफी उतार चढ़ाव का दौर देखा जा रहा है। अस्पताल में प्रो. रामगोपाल, शिवपाल और अखिलेश यादव के साथ धर्मेन्द्र यादव डेरा डालें हैं । प्रदेश और देश के तमाम बड़े समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता ओर नेता लगातार अस्पताल में अपने चहेते नेताजी का कुशलक्षेम जानने के लिये पहुंच रहे हैं।पार्टी की ओर से इस बात का अनुरोध पहले हीं किया गया है कि समाजवादी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता अस्पताल में भीड़ न लगायें लेकिन मुलायम के चाहने वालों पर इस अपील का कोई असर नहीं हो रहा है।पार्टी कार्यकर्ताओं में हीं नहीं बल्कि सूबे की सियासत में मुलायम सिंह यादव की छवि एक अभिभावक की तरह है,और शायद यही वजह है कि दलगत राजनीति से उपर उठकर हर कोई नेताजी के जल्द स्वस्थ होने की कामना कर रहा है।इसी कड़ी में सूबे के डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने तो इस बात की अपील की है कि मुलायम सिंह के ईलाज के लिये योगी सरकार हर संभव मदद को तैयार है।क्या प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी या फिर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ,नीतिश कुमार सब मुलायम के हालात की जानकारी बेटे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से फोन पर ले रहे हैं।फिलहाल मुलायम के शरीर में आक्सीजन लेवल को मेंटेन करने की कोशिश चिकित्सक कर रहें हैं और इस बात की लगातार बारीकि से मानिटरिंग कर रहे हैं कि शरीर में कुछ हरकत शुरू हो जाये।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button