उत्तर प्रदेशदेशब्रेकिंग न्यूज़राजनीतिसम्भल

संभल : पीएफआई पर बैन तो आरएसएस पर क्यों नहीं: सांसद बर्क

समाजवादी पार्टी के सांसद ने एक बार फिर पीएफआई को लेकर बयान दे डाला है। शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा कि पीएफआई के बारे में हमने कभी आज तक भी शिकायत नहीं सुनी है।

समाजवादी पार्टी के सांसद ने एक बार फिर पीएफआई को लेकर बयान दे डाला है। शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा कि पीएफआई के बारे में हमने कभी आज तक भी शिकायत नहीं सुनी है। बीजेपी केवल मुसलमानों को डराने के लिए सब कुछ कर रही है और पीएफआई के लोग मुल्क के गद्दार लोग नहीं है। इसके अलावा समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने पीएफआई को राजनीति पार्टी बताते हुए कहा कि पीएफआई पर बैन लगा दिया गया, लेकिन कभी भी आरएसएस पर बैन नहीं लगाया गया है।

समाजवादी पार्टी के सांसद डॉ शफीकुर्रहमान बर्क ने पीएफआई का समर्थन करते हुए कहा कि जहां तक मेरी मालूमात का ताल्लुक है पीएफआई पार्टी दूसरी है। मैं समाजवादी का आदमी हूं लेकिन मैं इतना कह सकता हूं न तो मैंने इस तरह की शिकायत सुनी न उनके काम से न किरदार से पता चला वह यह काम कर रहे हैं। यह सब बीजेपी मुसलमानों को ख़ौफ़ ज़दा करने के लिए ये सारी बाते करती है। पीएफआई पर इन्होंने बैन लगा दिया। बैन कोई वजह नहीं है वह मुल्क के कोई गद्दार नहीं है वह भी इस मुल्क के हैं यह भी एक सियासी पॉलिटिकल पार्टी है जैसे और पार्टियां चल रही हैं। आज तक कभी आरएसएस पर तो बैन नहीं लगाया जबकि आरएसएस का यह काम है कि मुसलमानों के साथ जगह-जगह जुल्म करना ज़्यादती का करना।

इन्होंने धर्म संसद बनाई थी उन्होंने साफ कहा कि मुसलमानों का कत्लेआम किया जाए मुसलमानों को मारा जाए यह सारी बातें इतनी गैर जिम्मेदाराना बातें मुल्क के अंदर जिस से नफरत बढ़ती है और हालात खराब होते हैं गवर्नमेंट का इन पर बैन नहीं लगा। इन पर बैन क्यों नहीं लगाया गया। पीएफआई पर झूठी सच्ची बातें लगाकर वह यह करते हैं यह तो अल्लाह बेहतर जाने मैं तो नहीं कह सकता, जहां तक मेरी मालूमात हैं इनके खिलाफ झूठा प्रोपगंडा है।

रिपोर्टर – उवैस दानिश

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button