बिज़नेस

ATM कार्ड से कैश निकालने पर RBI का नया ऐलान

वर्तमान में देश के कुछ ही बैंकों में यह सुविधा है। इनमें से एक बैंक एसबीआई भी है।

देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई के एटीएम से बिना कार्ड के भी कैश निकाल सकते हैं। उपयोग से लेनदेन में आसानी होगी।

बीते शुक्रवार को भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने सभी बैंकों को एटीएम से बिना कार्ड (कार्डलेस) के कैश निकालने की सुविधा शुरू करने की अनुमति देने का ऐलान किया। वर्तमान में देश के कुछ ही बैंकों में यह सुविधा है। इनमें से एक बैंक एसबीआई भी है। देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक एसबीआई के एटीएम से आप बिना कार्ड के भी कैश निकाल सकते हैं। 

दरअसल, 1 जनवरी 2020 से एसबीआई ने ओटीपी बेस्ड ट्रांजेक्शन की शुरुआत की थी। इस सुविधा के तहत सबसे पहले एसबीआई ग्राहक को रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाएगा। ग्राहक इस ओटीपी को एंटर कर एटीएम से कैश की निकासी कर सकते हैं। ये ओटीपी कुछ मिनटों और एक बार के ट्रांजेक्शन के लिए वैलिड होगा। इस तरीके से एक बार में 10 हजार रुपए या उससे अधिक निकाल सकते हैं। कहने का मतलब ये है कि इसके लिए ग्राहकों को एसबीआई के डेबिड कार्ड की जरूरत नहीं पड़ेगी।

कई बैंक दे रहे सुविधा: आपको बता दें कि एसबीआई के अलवा आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक जैसे प्रमुख बैंक इस सुविधा की पेशकश कर रहे हैं। सुविधा का इस्तेमाल करने के लिए ग्राहकों को संबंधित बैंक के ऐप या वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करना होगा और कार्ड-रहित नकद निकासी करनी होगी। आरबीआई की ताजा घोषणा के साथ कार्ड रहित लेनदेन अब किसी भी एटीएम पर किया जा सकता है, भले ही ग्राहक का बैंक कोई भी हो।

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने बताया कि इसके उपयोग से लेनदेन करने में आसानी होगी। इसके साथ ही बिना कार्ड के नकदी निकासी की सुविधा से कार्ड कार्ड क्लोनिंग जैसी धोखाधड़ी को भी रोकने में मदद मिलेगी। इस बारे में एनपीसीआई, एटीएम नेटवर्क और बैंकों को जल्द ही अलग-अलग निर्देश जारी किए जाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button