विदेश

बेटी से रेप के मामले में 10 साल की जेल सुनाई गई सजा अंतिम नहीं है

जर्मनी की एक अदालत ने 75 वर्षीय व्यक्ति को अपनी बेटी का यौन उत्पीड़न करने के आरोप में 10 साल जेल की सजा सुनाई है.

Advertisements
AD
जर्मनी की एक अदालत ने 75 वर्षीय व्यक्ति को अपनी बेटी का यौन उत्पीड़न करने के आरोप में 10 साल जेल की सजा सुनाई है. यौन शोषण का आरोप दशकों पहले शुरू हुआ था, लेकिन इस मामले में केवल हाल के अपराधों को ही सजा के लिए माना गया.अदालत ने व्यक्ति को 10 साल और छह महीने जेल की सजा सुनाई. अभियोजकों ने कहा कि दोषी ने अपनी बेटी के साथ वर्षों तक यौन उत्पीड़न किया था. उस व्यक्ति पर 2017 और 2020 के बीच बलात्कार के 270 मामलों का आरोप लगाया गया था. इस मामले में केवल जर्मनी में हुए बलात्कार और शारीरिक उत्पीड़न को संबोधित किया गया. जज ने आरोपी पिता से कहा, “आपने अपनी बेटी का जीवन बर्बाद कर दिया है” आरोपी पिता ने जोर देकर कहा था कि उसने “उसके साथ कभी बलात्कार नहीं किया” पिता ने कहा कि उनका रिश्ता सहमति से था. जर्मन कानून 14 साल से कम उम्र के बच्चे के साथ यौन कृत्यों या यौन कृत्यों के प्रयास को बच्चों के यौन शोषण के रूप में परिभाषित करता है ‘हिंसा और निराशा’ अभियुक्त पिता ने अपनी बेटी का उत्पीड़न तब शुरू किया जब वह सात साल की थी, अब पीड़ित बेटी 55 वर्ष की है. बेटी ने 1990 के दशक में अभियुक्त के बच्चे को जन्म दिया. अभियोजकों ने कहा कि अभियुक्त ने बेटी के जीवन को नियंत्रित किया, उसे एक बच्चे के रूप में अलग-थलग कर दिया और उसके चारों ओर “हिंसा और निराशा का माहौल” बनाए रखा. अदालत ने कहा, “यह एक कठोर, ठंडा और बदसूरत पिंजरा था जिसमें आपने अपनी बेटी को रखा था” अभियोजकों ने दोषी के लिए 12 साल की जेल की सजा की मांग की थी. बुधवार को सुनाई गई सजा अंतिम नहीं है. ब्रॉडकास्टर बायरिशर रुंडफंक के मुताबिक दोषी एक इतालवी व्यक्ति है. एए/सीके (डीपीए)  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button