राजनीति

सरकार जाने के बाद अखिलेश के चाचा की आय बढ़ी, जानिए कमाई और 15 साल में कितनी हुई संपत्ति?

प्रगतिशील समाज पार्टी के मुखिया शिवपाल सिंह यादव इस बार भी समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं।

प्रगतिशील समाज पार्टी के मुखिया शिवपाल सिंह यादव इस बार भी समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। 2017 में उन्होंने सपा के टिकट पर ही जीत हासिल की थी, हालांकि बाद में वह अलग हो गए थे। उन्होंने इटावा की जसवंतनगर सीट से नामांकन भरा है। इस सीट से वह पिछले पांच बार से चुनाव जीतते आ रहे हैं। इससे पहले 1993 में इस सीट से उनके बड़े भाई और समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने जीत हासिल की थी। समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के सबसे छोटे भाई शिवपाल सिंह यादव लगातार छठवीं बार जीत हासिल करने के लिए इटावा की जसवंतनगर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। शिवपाल 1996 में यहां से पहली बार विधायक चुने गए थे। इसके बाद वह लगातार जीतते आ रहे हैं।
शिवपाल सिंह ने इटावा की जसवंतनगर सीट से अपना नामांकन दाखिल किया है। इसके अनुसार शिवपाल यादव की सालाना आय 27.35 लाख रुपये हैं। यानी हर रोज वह 7479 रुपये कमाते हैं। वहीं, उनकी कुल संपत्ति 11.77 करोड़ रुपये की है। शिवपाल से ज्यादा उनकी पत्नी की आय और संपत्ति है। आयोग को दिए गए हलफनामे के मुताबिक, शिवपाल यादव की पत्नी सरला यादव की सालाना आय 45 लाख रुपये है। इसके अलावा सरला के पास 2.64 करोड़ की चल और 4.55 करोड़ की अचल संपत्ति है। जानिए 15 साल के अंदर कैसे और कितनी बढ़ी शिवपाल और उनके परिवार की संपत्ति?
सत्ता से बहार होने के बाद भी बढ़ी संपत्ति, लेकिन आमदनी घटी  शुक्रवार 28 जनवरी को शिवपाल ने फिर से चुनाव आयोग को हलफनामा दिया है। इसके मुताबिक, शिवपाल सिंह यादव की आय 2017 के मुकाबले बढ़ी है, जबकि 2019 के मुकाबले घट गई है। 2017 में उनकी आय 21.69 लाख थी, जो 2019 में बढ़कर 27.49 लाख हो गई। अब 2022 में यह घटकर 27.35 लाख हो गई है। पत्नी की आय में भी गिरावट दर्ज हुई है। 2019 में पत्नी की सालाना आय 47.28 लाख थी, जो अब घटकर 45 लाख हो गई है। पारिवारिक आय भी 3.72 लाख से कम होकर 2.75 लाख हो गई है।
  • शिवपाल सिंह यादव, उनकी पत्नी और परिवार के पास अब 5.56 करोड़ रुपये की चल संपत्ति है।
  • शिवपाल और उनके परिवार की कुल अचल संपत्ति 6.20 करोड़ की है। 15 साल में उनकी कुल संपत्ति में तीन गुने से ज्यादा का इजाफा हुआ है।
  • 2007 में शिवपाल और उनके परिवार की कुल संपत्ति 3.38 करोड़ की थी, जो अब बढ़कर 11.77 करोड़ की हो गई है।
शिवपाल कैसे कमाते हैं? शिवपाल यादव ने खुद को समाजसेवी और किसान बताया है। उनकी आय का जरिया रिम्युनरेशन, भवन किराया, कृषि आय और ब्याज से मिलने वाली रकम है। उनकी पत्नी दो कंपनियों में डायरेक्टर और एक पेट्रोल पंप चलाती हैं। 2007 में कितनी संपत्ति थी?  चुनाव आयोग को दिए हलफनामे के मुताबिक, 2007 में शिवपाल सिंह यादव के पास कुल 3.38 करोड़ रुपये की संपत्ति थी। तब उनपर कोई कर्ज भी नहीं था। उस वक्त शिवपाल, उनकी पत्नी और परिवार के पास 82.20 लाख रुपये की चल संपत्ति थी। इसके अलावा 2.56 करोड़ रुपये की अचल संपत्ति थी। शिवपाल के पास तीन लाख की फोर्ड और उनकी पत्नी के पास 16.40 लाख रुपये की पजेरो कार थी। शिवपाल की पत्नी सरला यादव के पास 10.65 लाख रुपये के गहने थे। शिवपाल के नाम 69 लाख रुपये की जमीन थी और उनकी पत्नी के नाम 77 लाख रुपये की। पांच साल बाद यानी 2012 में क्या हुआ?  सरकार में न रहने के बावजूद 2012 में शिवपाल और उनके परिवार की संपत्ति दोगुनी हो गई। 2012 में शिवपाल सिंह यादव के पास कुल 6.03 करोड़ रुपये की संपत्ति थी। तब उन्होंने अपनी आय 2.73 लाख रुपये दिखाई थी। तब भी उनकी पत्नी सरला यादव की आय उनसे कई गुना ज्यादा थी। हलफनामे के मुताबिक, तब सरला सालाना 10.66 लाख रुपये कमाती थीं। हिंदू अविभक्त कुटुंब यानी पारिवारिक आय 1.68 लाख रुपये थी। 2012 में ही समाजवादी पार्टी की सरकार बनी थी और शिवपाल मंत्री बनाए गए थे।  2012 से पहले तक शिवपाल यादव पर दो मुकदमे दर्ज थे। 2017 में कितनी हो गई शिवपाल की संपत्ति?  सरकार में रहते हुए शिवपाल सिंह यादव की संपत्ति तीन करोड़ से ज्यादा बढ़ी। शिवपाल सिंह की जो संपत्ति 2012 में 6.03 करोड़ रुपये थी वो 2017 में बढ़कर 9.35 करोड़ रुपये की हो गई। शिवपाल सिंह की आय में कई गुना ज्यादा बढ़ोतरी हुई। 2012 में उनकी सालाना आय 2.73 लाख रुपये थी, वो 2017 में बढ़कर 21.69 लाख हो गई। पत्नी की आय में भी काफी इजाफा हुआ। उनकी आय 10.66 लाख से बढ़कर 25.11 लाख हो गई। पारिवारिक आय भी 1.68 लाख से बढ़कर 5.55 लाख हो गया। सरकार में रहते हुए शिवपाल के ऊपर से दोनों मुकदमे खत्म हो गए। 2019 में भी शिवपाल ने दी थी संपत्ति की जानकारी शिवपाल सिंह यादव ने 2019 में लोकसभा का चुनाव लड़ा था। तब उन्होंने चुनाव आयोग को दिए हलफनामे में अपनी 9.98 करोड़ रुपये की संपत्ति बताई थी। उस वक्त शिवपाल सिंह की सालाना आय 27.49 लाख रुपये थी, जबकि उनकी पत्नी 47.28 लाख रुपये सालभर में कमाती थीं। पारिवारिक आय 5.55 लाख से घटकर 3.72 लाख हो गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button