उत्तर प्रदेशब्रेकिंग न्यूज़

कन्नौज पहुंचे सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव, दिए बड़े बयान

मुलायम सिंह यादव के करीबी सपा नेता व पूर्व शिक्षा राज्यमंत्री विजय बहादुर पाल को श्रद्धांजलि देने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री अखिलेश यादव आज कन्नौज पहुंचे ।यहां उन्होंने विजय बहादुर पाल के मृतक शरीर के दर्शन कर उनको श्रद्धांजलि दी।

मुलायम सिंह यादव के करीबी सपा नेता व पूर्व शिक्षा राज्यमंत्री विजय बहादुर पाल को श्रद्धांजलि देने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री अखिलेश यादव आज कन्नौज पहुंचे ।यहां उन्होंने विजय बहादुर पाल के मृतक शरीर के दर्शन कर उनको श्रद्धांजलि दी।वहीँ मीडिया से रूबरू होते हुए उन्होंने डिप्टी सीएम के सदन जरूरी नहीं था,परिवार जरूरी था के बयान पर जवाब देते हुए कहा कि वह यह भी कह सकते हैं कि विजय बहादुर पाल के यहां क्यों गये, सदन जरूरी था। ऐसे लोगों के बारे में सोचना ठीक नहीं है। तो वही रामपुर और मैनपुरी में हुए उपचुनाव में कम वोटिंग को लेकर कहा कि जितनी पुलिस की जरूरत उससे ज्यादा पुलिस लगाना और विपक्षी नेताओं को डराना धमकाने का बताया कारण ।बताते चलें कि कन्नौज में मुलायम सिंह यादव के करीबी रहे सपा नेता एवं सपा सरकार में पूर्व शिक्षा राज्यमंत्री रहे विजय बहादुर पाल का मंगलवार की सुबह लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया । उनकी निधन की जानकारी होने के बाद सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव उनको श्रद्धांजलि देने उनके गांव पहुंचे ।जहां उन्होंने विजय बहादुर पाल के अंतिम दर्शन कर उनको श्रद्धांजलि दी और उन्होंने उनको समाजवादी पार्टी के लिए एक बड़ी क्षति बताया ।आगे उन्होंने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि विजय बहादुर पाल एक जमीनी नेता थे और वह गरीबों के लिए काम करते थे और लोगों के बीच बहुत लोकप्रिय थे । उसके बाद उन्होंने डिप्टी सीएम के द्वारा दिए गए बयान  सदन जरूरी नहीं था परिवार जरूरी था के बयान पर जवाब देते हुए कहा कि वह यह भी कह सकते हैं कि विजय विजय बहादुर पाल के यहां क्यों गए सदन जरूरी था।ऐसे लोगों के बारे में सोचना ठीक नहीं है ।वहीँ रामपुर और मैनपुरी में हुए उपचुनाव में कम वोटिंग को लेकर कहा कि अगर लोकतंत्र पुलिस से चलाओगे आप और विपक्षी पार्टी को डराओगे धमकाओगे आप यह तो आपने रामपुर में देखा और मैनपुरी में कम से कम समाजवादी पार्टी कार्यकर्ता और नेता के इतने मजबूत थे।रामपुर में भी लड़े लेकिन जितनी पुलिस की जरूरत नहीं उतनी ज्यादा पुलिस इसलिए जनता को सामने आना पड़ेगा अगर जनता सामने नहीं खड़ी होगी और मुझे उम्मीद है की रिजल्ट जो आएगा वह समाजवादियों के पक्ष में आएगा और इसी तरह खड़े होकर लोकमत को बचाना पड़ेगा लोगों से बचेगा तो सविधान सुरक्षित रहेगा ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button