देशब्रेकिंग न्यूज़

अलीगढ़ में हवस का भूखा भेड़िया टेंपो चालक पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार

महिला के साथ गैंगरेप में इस्तेमाल किया टेंपो सहित महिला का सामान व अवैध असलाह भी बरामद हुआ है।

अलीगढ़ हवस का भूखा भेड़िया टेंपो चालक पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार, दो संदिग्ध फरार, चलते टेंपो में महिला से हुआ था गैंगरेप, नग्न हालत में फेंका था सड़क किनारे

 अलीगढ के अकराबाद थाना क्षेत्र के नानाउ छर्रा मार्ग पर गुरुवार की देर रात दिल्ली से लौटी एक महिला के साथ ऑटो चालक व् उसके दो अन्य साथियों ने सड़क पर चलते टैंपू में सामूहिक दुष्कर्म किया। दुष्कर्म के बाद महिला से 20 हजार रुपए, सोने की जंजीर और कोने के कुंडल लूट उसे गांव में सड़क किनारे नग्न अवस्था में फेंक गए। शुक्रवार की देर रात पुलिस ने महिला के साथ चलते टैंपू में हुए सामूहिक दुष्कर्म के मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए घटना का 24 घण्टे में खुलासा कर टेंपो में महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने वाले हवस के भूखे भेड़िये टेंपो चालक को पुलिस से हुई मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया गया है। मुठभेड़ के दौरान गोली लगने से घायल आरोपी के कब्जे से महिला के साथ गैंगरेप में इस्तेमाल किया टेंपो सहित महिला का सामान व अवैध असलाह भी बरामद हुआ है।

उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के थाना अकराबाद क्षेत्र में गुरुवार की देर रात थाना क्वार्सी क्षेत्र के रजा नगर निवासी यूसुफ टेंपो चालक और उसके दो अन्य साथियों ने चलते टेंपो में दिल्ली के मयूर विहार फेस 2 निवासी एक महिला के साथ बारी-बारी से सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को हवस के भूखे भेड़ियों के द्वारा अंजाम दिया गया था। सड़क पर दौड़ते टेंपो में महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने वाले टेंपो चालक युसूफ पुत्र अनीस को थाना अकराबाद क्षेत्र के नानऊ पुल के पास मुखबिर की सूचना पर सीसीटीवी फुटेज में पहचान होने के बाद पुलिस टीम के द्वारा गिरफ्तार करने के लिए घेराबंदी की गई थी।

पुलिस टीम को देख महिला के साथ गैंग रेप करने वाला आरोपी टेंपो चालक पुलिस को देख मौके से भागने लगा जिसके बाद मौके से भागते हुए आरोपी टेंपो चालक ने पुलिस पर फायर झोंक दिया। जिसके बाद पुलिस ने भी आत्मरक्षा में जवाबी कार्यवाही करते हुए पुलिस द्वारा फायर किया गया। पुलिस के असलाह से निकली गोली आरोपी के पैर में जा लगी। इसके बाद देर रात पुलिस मुठभेड़ में गोली लगने के बाद घायल आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दिल्ली की महिला के साथ हुई इस सामूहिक दुष्कर्म की जघन्य वारदात का पुलिस टीमों के द्वारा 24 घंटे के अंदर खुलासा किया गया है।

वहीं महिला के साथ गैंगरेप करने वाले आरोपी टेंपो चालक युसूफ को देर रात पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार करने के दौरान उसके कब्जे से गैंगरेप में इस्तेमाल किया टेंपो सहित महिला से लूटी गई नकदी और आभूषण ओर अवैध असलाह भी बरामद किए गए हैं। जबकि मुठभेड़ के दौरान दो संदिग्ध आरोपी अंधेरे का फायदा उठाकर पुलिस को चकमा दे मौके से फरार हो गए। जिसके बाद पुलिस ने गोली लगने से घायल गैंगरेप के आरोपी को उपचार के लिए हायर सेंटर जिला मलखान सिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया। तो वही गोली लगने से घायल आरोपी से पुलिस द्वारा मौके से फरार हुए दोनों संदिग्धों के बारे जानकारी जुटाते हुए पुलिस टीमों के द्वारा लगातार कड़ाई से पूछताछ की जा रही है।

आपको बता दें थाना अकराबाद इलाके के एक गांव निवासी गैंगरेप की शिकार पीड़ित महिला ने पुलिस को दी तहरीर में आरोप लगाया गया कि वह थाना अकराबाद क्षेत्र के गांव की रहने वाली है। फिलहाल दिल्ली के मयूर विहार फेस-2 की हाल निवासी हैं। जो दिल्ली से करीब 5:30 बजे रोडवेज बस में सवार होकर अलीगढ़ के लिए चली थी। जिसके बाद देर रात करीब 10:00 बजे वह अलीगढ़ के रोडवेज बस स्टैंड पर पहुंची थी। अलीगढ़ रोडवेज बस अड्डे से अकराबाद क्षेत्र के गांव अपने घर जाने के लिए बस स्टैंड पर खड़ा भाड़े पर एक टेंपो बुक किया था। टेंपो मैं उसके अलावा ऑटो चालक समेत 3 लोग और मौजूद थे। जिसमें एक व्यक्ति टेंपो से रास्ते में उतर गया। आरोप है कि इस दौरान थाना अकराबाद क्षेत्र के नानऊ इलाके में पहुंचते ही चलते ऑटो में टेंपो चालक और साथ में दो मौजूद अन्य लोगों के द्वारा उसके साथ बारी बारी से टेंपो में गिराकर सामूहिक दुष्कर्म किया गया। तीनों लोगों द्वारा सामूहिक दुष्कर्म करने के बाद उसके पास मौजूद करीब 20 हजार रुपए सोने चांदी के जेवरात सहित मोबाइल लूटते हुए उसको नग्न हालत में सड़क किनारे फेंककर टेंपो समेत तीनों लोग मौके से फरार हो गए। जिसके बाद पीड़ित महिला ने थाने पहुंचकर चलते टेंपो में उसके साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म की वारदात थाने में पहुंचकर पुलिस को दी गई पुलिस ने पीड़ित महिला द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म करने वाले टेंपो चालक और दो अन्य साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था।

 इस पूरे मामले पर एसएसपी अलीगढ़ कलानिधि नैथानी ने बताया कि देर रात पुलिस को सूचना मिली थी कि थाना अकराबाद क्षेत्र में टेंपो चालक समेत दो अन्य लोगों के द्वारा चलते टैंपू में एक महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। जिसके बाद महिला की तहरीर पर तत्काल आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप में मुकदमा दर्ज किया गया था। तो वहीं पुलिस ने घटनास्थल का मौके पर पहुंचकर मौका मुआयना किया गया था। जिसके बाद महिला के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की 04 टीमें गठित की गई थी।गठित की गई पुलिस की चार टीमों के द्वारा इलाके में लगे करीब 250 से ज्यादा सीसीटीवी कैमरों में आरोपियों को तलाश किया गया। करीब 200 सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद पुलिस टीमों के द्वारा गैंगरेप करने वाले टेंपो चालक की पहचान की गई। इसके साथ ही पुलिस ने वारदात के दौरान महिला के साथ गैंगरेप में इस्तेमाल किया गया टेंपो की पहचान की गई। पुलिस तीनों के द्वारा जब गैंग रेप करने वाले टेंपो चालक को गिरफ्तार करने के लिए घेराबंदी की गई तो पुलिस को देख टेंपो चालक टेंपो लेकर मौके से भागने लगा जिसके बाद टेंपो चालक और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई। पुलिस से मुठभेड़ के दौरान टेंपो चालक को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस मुठभेड़ के दौरान पैर में गोली लगने से घायल टेंपो चालक को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। तो वही पुलिस मुठभेड़ के दौरान गैंगरेप में शामिल दो अन्य संदिग्ध आरोपी अंधेरे का फायदा उठाकर मौके से फरार हो गए। मौके से फरार हुए दोनों आरोपियों के बारे में गोली लगने से घायल आरोपी से पुलिस टीमों के द्वारा पूछताछ की जा रही है। वहीं एसएसपी का कहना है कि मुठभेड़ के दौरान मौके से फरार हुए दोनों आरोपियों समेत गोली लगने से घायल आरोपी के खिलाफ कठोरतम और दंडात्मक कार्रवाई करने पुलिस को निर्देश दिए गए। पुलिस मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार किया गया गैंगरेप का आरोपी थाना क्वार्सी क्षेत्र का रहने वाला है।

बाइट- कलानिधि नैथानी एसएसपी अलीगढ़

 

रिपोर्टर लक्ष्मन सिंह राघव

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button