विदेश

1683 सीढ़ियां चढ़ने पर दिखता है मन को मोह लेना वाला नजारा

रूस में मध्य साइबेरिया स्थित तोर्गाशिंस्की को दुनिया की सबसे ठंडी जगहों में शामिल किया जाता है। इस जगह को हाल ही में पर्यटकों के लिए खोला गया है

रूस में मध्य साइबेरिया स्थित तोर्गाशिंस्की को दुनिया की सबसे ठंडी जगहों में शामिल किया जाता है। इस जगह को हाल ही में पर्यटकों के लिए खोला गया है, ताकि क्रास्नोयार्स्क क्राय में तोर्गाशिंस्की पर्वत शृंखला की चोटी तक पैदल पहुंच सकें। 1.2 किलोमीटर लंबे रास्ते में 1,683 सीढ़ियां हैं। यह रूस की सबसे लंबी सीढ़ियों वाली जगह भी है। सीढ़ियों के इतनी लंबी और इतनी ऊंचाई तक जाने के कारण इसे ‘स्वर्ग की सीढ़ी’ भी कहा जाता है। इन सीढ़ियों की सबसे ऊंचाई पर पहुंचने के बाद मन को मोह लेना वाला नजारा दिखाई देता है। साइबेरियन टाइम्स के मुताबिक यह सीढ़ियां सुबह 8 बजे से रात 10 बजे तक खुली रहती हैं। बगैर रुके चढ़ाई में 40 मिनट लगेंगे। इस नए रास्ते का निर्माण गर्मियों में शुरू हुआ है। इसके तैयार हो जाने से स्टॉल्बी नेचर रिजर्व और तोर्गाशिंस्की रिज एक साथ जुड़ गए हैं। सीढ़ियां इतनी लंबी और इतनी ऊंचाई तक जाने के कारण इसे ‘स्वर्ग की सीढ़ी’ तक कहा जाता है। चारों तरफ बर्फीले पहाड़ों से घिरे होने की वजह से ये सीढ़ियां बहुत खूबसूरत नजर आती हैं। रात के वक्त अंधेरे में जगमगाते लाइटों से इनकी खूबसूरती और बढ़ जाती है। यह रूस की सबसे लंबी सीढ़ियों वाला स्थल भी है। एक बार बगैर रुके नीचे से ऊपर तक चढ़ने में स्वस्थ इंसान को कम से कम 40 मिनट लगते हैं। 131 लाख वर्ग किमी में फैला साइबेरिया का इलाका 1991 तक सोवियत संघ का हिस्सा हुआ करता था। साइबेरिया का मौसम इतना सख्त है कि यहां सिर्फ 4 करोड़ लोग ही रहते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button