राजनीति

चुनावी रैलियों और जनसभा को लेकर EC का बड़ा फैसला; जारी हुई नई गाइडलाइंस

चुनाव आयोग ने कोरोना के कम होते खतरे के बीच चुनाव प्रचार से जुड़ी पाबंदियों में ढील देने का फैसला लिया है. आइये आपको बताते हैं आयोग द्वारा जारी नए दिशा निर्देशों के बारे में.

पांच राज्यों के विधान सभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग ने आज सोमवार को नई गाइडलाइन जारी की है. आयोग ने कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच चुनाव प्रचार से संबंधित पाबंदियों में बड़ी राहत दी है. नए निर्देशों के मुताबिक अब प्रत्याशी और कार्यकर्ता 20 की संख्या में डोर-टू-डोर कैंपेन कर सकेंगे. आइये आपको बताते हैं आयोग ने सियासी दलों को और कौन-कौन सी राहत दी हैं…

चुनाव आयोग ने जारी किए नए दिशा निर्देश

-पार्टी या पार्टी के उम्मीदवार अब 1000 लोगों के साथ बैठक कर सकेंगे. इसमें स्थानीय एसडीएम के दिशा निर्देशों का भी ध्यान रखना होगा. -11 फरवरी, 2022 तक किसी भी रोड शो, पद-यात्रा, साइकिल/बाइक/वाहन रैलियों और जुलूसों पर प्रतिबंध जारी रहेगा. -डोर-टू-डोर चुनाव प्रचार के लिए लोगों की संख्या 10 से बढ़ाकर 20 कर दी गई है. इस दौरान कोरोना उचित व्यवहार का पूरा ध्यान रखना होगा. इनडोर बैठकों में शामिल होने वालों की संख्या को बढ़ाकर 300 से 500 कर दिया गया है. यहां यह ध्यान रखना होगा कि बैठक में हॉल की क्षमता के 50% लोग ही शामिल हों. एसडीएमए द्वारा जारी निर्देशों का भी ध्यान रखना होगा -सियासी दलों और उम्मीदवारों को कोरोना उचित व्यवहार और इससे जुड़े दिशा-निर्देशों के साथ ही प्रचार करने की अमनुमति रहेगी. -इन बदलावों के अलावा 8 जनवरी 2022 को जारी गाइडलाइन के सभी निर्देश और प्रतिबंध लागू रहेंगे.  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button