विदेश

अपनी ही बहन का हत्यारा बन बैठा भाई, कातिल भाई करता था बहन से नफरत

करीब पांच साल बाद अपनी बहन से मिले भाई ने उसे बेहरमी से मौत के घाट उतार दिया (Brother Killed Sister). इराक (Iraq) के कुर्दिस्तान में हुई इस वारदात में सामने आया है

एक भाई ने अपनी बहन का केवल इसलिए बेहरमी से कत्ल कर दिया, क्योंकि वो ट्रांसजेंडर थी. ऑनर किलिंग की इस घटना को अंजाम देकर आरोपी इराक छोड़कर भाग गया है. बहन पिछले पांच सालों से परिवार से अलग रह रही थी

  करीब पांच साल बाद अपनी बहन से मिले भाई ने उसे बेहरमी से मौत के घाट उतार दिया (Brother Killed Sister). इराक (Iraq) के कुर्दिस्तान में हुई इस वारदात में सामने आया है कि कातिल भाई अपनी बहन से इसलिए नफरत करता था, क्योंकि ट्रांसजेंडर (Transgender Woman) थी. सालों अलग रहने के बाद भी उसकी नफरत कम नहीं हुई थी. हाल ही में जब दोनों का सामना हुआ तो उसने बहन का कत्ल कर दिया.

Duhok से 12 मील दूर मिली बॉडी

‘डेली स्टार’ की रिपोर्ट के अनुसार, इस ऑनर किलिंग (Honour Killing) को अंजाम देने वाले शख्स की पहचान चकदार आजाद (Chakdar Azad) के रूप में हुई है. आजाद की बहन दोस्की आजाद (Doski Azad) ट्रांसजेंडर होने की वजह से पांच साल पहले घर छोड़कर चली गई थी. हाल ही में 23 वर्षीय दोस्की का शव Duhok शहर से 12 मील दूर एक गांव में पाया गया.

दूसरे भाई ने दी हत्या की जानकारी

पुलिस ने बताया कि खुद को दोस्की आजाद का दूसरा भाई बताने वाले एक शख्स ने उसकी लाश के बारे में जानकारी दी थी. दोस्की के अंकल ने स्थानीय मीडिया से बातचीत में कहा कि वो करीब पांच-छह साल पहले घर छोड़कर चली गई थी, तब से किसी ने उसे नहीं देखा था. उनका ये भी कहना है कि घर छोड़कर दोस्की ने गलती की थी. इस मामले में अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

Family ने तोड़ लिया था नाता

दोस्की आजाद के परिवार को उसकी जिंदगी से कोई लेना देना नहीं था. दोस्की एक सैलून में काम करती थी. उनके पिता ने उनका ID और पासपोर्ट भी छीन लिया था, लेकिन बाद में वो किसी तरह उन्हें वापस पाने में कामयाब रहीं. क्योंकि उन्होंने नया साल दुबई में मनाया था. कुछ लोगों का कहना है कि हत्यारा भाई 30 जनवरी को देश छोड़कर चला गया है.  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button