बिज़नेस

खुशखबरी! चुनाव नतीजों के बाद महंगा नहीं सस्‍ता हुआ पेट्रोल-डीजल, अभी और कम होंगे रेट!

पांच राज्‍यों के व‍िधान सभा चुनाव के नतीजे आने के बाद पेट्रोल-डीजल के रेट में तेजी आने के बजाय कुछ शहरों में ग‍िरावट देखी जा रही है. मेट्रो शहरों के रेट में क‍िसी तरह का बदलाव नहीं आया है.

पांच राज्‍यों के चुनावी नतीजे सामने आने के बाद पेट्रोल-डीजल महंगा नहीं बल्‍क‍ि सस्‍ता हो गया है. यह खबर भले ही आपको चौंका दे लेक‍िन हकीकत यही है, कुछ शहरों में तो पेट्रोल के रेट में एक रुपये लीटर की कमी आई है. दरअसल, रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच चल रही जंग के बीच क्रूड ऑयल की कीमत में लगातार तेजी आ रही थी.

12 से 16 रुपये तक तेजी की थी उम्‍मीद

क्रूड में तेजी के बीच जानकार चुनाव बाद पेट्रोल के रेट में 12 से 16 रुपये प्रत‍ि लीटर तक की तेजी की उम्‍मीद जता रहे थे. लेक‍िन अब भाव में ग‍िरावट आने से लोग खुश हैं. आने वाले समय में कीमत में और कमी आने की संभावना है. दो दिन में क्रूड $139 प्रति बैरल से फिसलकर $108.7 पर आ गया है.

क‍िस शहर में क‍ितना ग‍िरा रेट?

शुक्रवार को भुवनेश्‍वर में पेट्रोल का रेट घटकर 102.27 रुपये से 101.81 रुपये प्रत‍ि लीटर पर आ गया. जयपुर में रेट 108.07 रुपये से ग‍िरकर 107.06 रुपये प्रत‍ि लीटर पहुंच गया है. वहीं डीजल 91 पैसे ग‍िरकर 90.70 रुपये पर आ गया है। पटना में रेट 106.44 रुपये से कम होकर शुक्रवार सुबह 105.90 रुपये पर देखे गए.

मेट्रो शहरों में कोई बदलाव नहीं

हालांक‍ि गुडगांव में पेट्रोल के रेट में हल्‍की तेजी के साथ 95.59 रुपये प्रत‍ि लीटर पर पहुंच गए हैं. वहीं नोएडा में रेट बढ़कर 95.73 रुपये प्रत‍ि लीटर हो गए हैं. मेट्रो शहरों में तेल के रेट में बदलाव नहीं देखा गया. नई द‍िल्‍ली, कोलकाता, मुंबई, चेन्‍नई और बेंगलुरू में रेट क्रमश: 95.41, 104.67, 109.98, 91.43, और 101.40 रुपये प्रत‍ि लीटर पर बने हुए हैं.

2 से 3 रुपये कम हो सकते हैं रेट

सबसे बड़ी रिफाइनरी चलाने वाली कंपनी BPCL के चेयरमैन और MD अरुण कुमार सिंह सहयोगी वेबसाइट जी ब‍िजनेस से बातचीत में कहा अगले 2 हफ्ते में कच्चे तेल की कीमत 100 डॉलर के नीचे आ सकती हैं. उन्‍होंने यह भी उम्‍मीद जताई क‍ि क्रूड ऑयल 90 डॉलर प्रति बैरल के स्तर पर आ सकता है. ऐसा हुआ तो पेट्रोल-डीजल के रेट में 2 से 3 रुपये प्रत‍ि लीटर की और कमी आ सकती है.

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button