लाइफस्टाइल

पेट में गैस की समस्या से रहते हैं परेशान तो आप घरेलू नुस्खों की मदद से भी इससे राहत पा सकते हैं

ज्यादातर लोग अपने पसंदीदा खाने को देखकर उसे खाने से खुद को रोक नहीं पाते. हम बात कर रहे हैं

ज्यादातर लोग अपने पसंदीदा खाने को देखकर उसे खाने से खुद को रोक नहीं पाते. हम बात कर रहे हैं स्वादिष्ट व्यंजनों ( Tasty foods ) की, जो टेस्ट में लाजवाब होते हैं, लेकिन इनका बुरा असर पेट ( Stomach problems ) में देखने को मिलता है. इस सिचुएशन में एसिडिटी ( Acidity in stomach ) के अलावा पेट में गैस बनने लगती है. पेट में गैस की समस्या होने पर गैस के अलावा खराब सांस, दर्द और अन्य लक्षण नजर आने लगते हैं. दरअसल, पेट में गैस की समस्या पाचन तंत्र के कमजोर होने की वजह से होती है और समय रहते इसका इलाज किया जाना बहुत जरूरी है. एक्सपर्ट्स के मुताबिक पेट की गैस्ट्रिक ग्रंथियों के अत्याधिक एसिड स्रावित करने के चलते गैस व अन्य समस्याएं बनने लगती है. डॉक्टर से इलाज के अलावा आप घरेलू नुस्खों की मदद से भी इससे राहत पा सकते हैं. हम आपको ऐसी कुछ चीजों के बारे में बताएंगे, जो पेट में गैस को खत्म कर सकती है.

अजवाइन और काला नमक

अगर आपको गलत खानपान की वजह से सीने में जलन या फिर पेट में गैस की समस्या हो रही है, तो इसे हल्के में न लें. कभी-कभी ये गैस सिर में दर्द का कारण भी बन जाती है. ऐसे में अजवाइन और काले नमक का सेवन किया जा सकता है. ये दोनों ही चीजें किचन में आसानी से मिल जाएगी और इनका पानी बनाना भी बहुत आसान है. गैस पर एक गिलास पानी चढ़ाएं और इसमें दो चम्मच अजवाइन और आधा चम्मच काला नमक मिलाकर उबाल दें. अब इस गर्म पानी को गुनगुना हो जाने पर सिप-सिप कर पिएं.

दही

इसमें मौजूद गुण पेट में गैस ही नहीं दूसरी कई समस्याओं से हमें दूर रख सकता है. डॉक्टर भी पेट को हेल्दी रखने के लिए दही का सेवन करने की सलाह देते हैं. आप अक्सर पेट में गैस की प्रॉब्लम को फेस करते हैं तो आपको दही जरूर खाना चाहिए. आप दही को दो तरीकों से अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं. एक तो आप इसकी छाछ बनाकर रोजाना दोपहर में पी सकते हैं या फिर दही में काला नमक डालकर खाया जा सकता है.

जीरा

पेट में गैस को खत्म करने में जीरा भी बहुत कारगर माना जाता है. इतना ही नहीं ये पाचन तंत्र को हेल्दी रखने में मददगार होता है. पेट में गैस की समस्या बनी रहती है, तो रोजाना आधे चम्मच जीरे का सेवन करें. खाने के बाद, भुने हुए जीरे को हल्का क्रश करके एक गिलास पानी में घोलें, या एक कप उबलते पानी में एक चम्मच जीरा डालकर पी सकते हैं.

दालचीनी

ये मसाला एक प्राकृतिक एंटासिड के रूप में काम करता है. ये पाचन में सुधार करके आपके पेट को शांत करने में मदद कर सकता है. गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट में इन्फेक्शन को ठीक करने के लिए दालचीनी की चाय का सेवन करें. दालचीनी स्वास्थ्य को बढ़ावा देने वाले गुणों का पोषक तत्व पावरहाउस है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button