उत्तर प्रदेशदेशब्रेकिंग न्यूज़लखनऊ

आहूति वो नहीं जो हवन कुंड में डाली जाये,जीवन हीं एक यज्ञ है-मुख्य सचिव

लखनऊ – उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र आज 108 कुण्डीय गायत्री महायज्ञ में शामिल हुये।राजधानी लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेडियम में इन दिनों 108 कुण्डीय गायत्री महायज्ञ का आयोजन गायत्री परिवार की ओर किया गया है।

लखनऊ – उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र आज 108 कुण्डीय गायत्री महायज्ञ में शामिल हुये।राजधानी लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेडियम में इन दिनों 108 कुण्डीय गायत्री महायज्ञ का आयोजन गायत्री परिवार की ओर किया गया है।मुख्य सचिव ने विधि विधान से इस यज्ञ में पूजा अर्चना की और महायज्ञ में आहूति भी दी।इस मौके पर अपने संबोधन मे मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने यज्ञ का महत्व को बताते हुये कहा कि यज्ञ वह आहूति नहीं है जो यज्ञ कुंड में दी जाती है, बल्कि हमारा जीवन ही एक यज्ञ है। मानव जीवन बड़े सौभाग्य से मिलता है, जीवन को सफल करने के लिए यज्ञ कर्म में पूरी निष्ठा एवं ईमानदारी से कार्य करें, इससे बड़ा और कोई योगदान नहीं हो सकता है।

उन्होंने सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि एक आध्यात्मिक विभूति, एक संत तथा हरिद्वार के प्रति कुलपति डॉ. चिन्मय पंड्या जी के विचारों को सुनने का मौका मिला। इस दिव्य आयोजन के लिये उन्होंने सभी का साधुवाद किया।

इससे पूर्व, अखिल विश्व गायत्री परिवार व देव संस्कृति विश्वविद्यालय शांतिकुंज हरिद्वार के प्रति कुलपति डॉ. चिन्मय पंड्या ने बताया कि व्यक्ति के जीवन में उत्थान और पतन दोनों की संभावनाएं होती हैं यदि व्यक्ति के जीवन में अच्छे संस्कारों का वातावरण हो तो व्यक्ति श्रेष्ठ मार्ग को प्राप्त करता है और उसके जीवन में कुसंस्कार नफरत, अशांति का माहौल हो तो फिर व्यक्ति मानव जीवन की बजाए पशु जीवन की ओर अग्रसर होता है। इस अवसर पर निदेशक पंचायतीराज श्री अनुज कुमार झा, अन्य विशिष्ट अतिथिगण, बड़ी संख्या में श्रद्धालुगण आदि उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button