अन्यक्राइम न्यूज़देशब्रेकिंग न्यूज़

महिलाओं ने फूका ठेका शराब का कहा बिगड़ रहे परिवार के युवा , सेल्समेन ने दर्ज़ कराई रिपोर्ट

मेरठ के फलावदा थानाक्षेत्र में गांव गडीना में महिलाओं ने बीती रात देसी शराब के सरकारी ठेके पर हंगामा करते हुए आग लगा दी।

मेरठ के फलावदा थानाक्षेत्र में गांव गडीना में महिलाओं ने बीती रात देसी शराब के सरकारी ठेके पर हंगामा करते हुए आग लगा दी। महिलाओं का आरोप था कि शराब से उनके परिवार के युवा बिगड़ रहे हैं तथा उन पर बुरा असर पड़ रहा है। वह गांव में शराब नहीं बिकने देंगी। महिलाओं द्वारा ठेके में लगाई गई आग से हजारों रुपये की नकदी व लाखों की शराब जलकर नष्ट हो गई।   जानकारी के मुताबिक, गांव गडीना में चंदौडी को जाने वाले रास्ते पर सरकारी देसी शराब का ठेका है। ठेके पर गांव गडीना निवासी राजेंद्र सिंह सेल्समैन के पद पर कार्यरत है। राजेंद्र ने बताया कि गांव की महिलाओं ने उसके साथ मारपीट करते हुए ठेके से भगा दिया तथा ठेके में आग लगा दी। आग लगने से दो हजार रुपये की नकदी तथा लाखों रुपये कीमत की शराब जल गई। बताया कि देसी शराब का ठेका जितेंद्र शर्मा माछरा के नाम से चल रहा है।   महिलाएं बोलीं -बिगड़ रहे परिवार के युवा महिलाओं का आरोप था कि गांव में शराब की बिक्री से युवा पीढ़ी तथा परिवार के लोग बिगड़ रहे हैं। गांव में किसी भी तरह की शराब बिकने नहीं दी जाएगी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने महिलाओं व ग्रामीणों को समझा बुझाकर शांत किया, लेकिन तब तक आग से ठेके में भारी नुकसान हो चुका था। महिलाओं का आरोप था कि परिजनों के शराब पीने से आए दिन मारपीट व झगड़े की घटनाएं बढ़ रही हैं। इससे पूर्व आक्रोशित महिलाओं ने सेल्समैन को गाली गलौज करते हुए ठेका बंद करने की चेतावनी दी थी। सेल्समैन राजेंद्र सिंह ने दो दर्जन से अधिक महिला व पुरुषों को नामजद करते हुए थाने में तहरीर दी है। एसएसआई नरेंद्र कुमार का कहना है कि घटना के संबंध में तहरीर दी गई है। आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button