देश

भारत में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए Lockdown कितना जरूरी ऑप्‍शन? WHO ने का सुझाव

भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus in India) की तीसरी लहर में रोजाना 2 लाख से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं

भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus in India) का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है, हालांकि इस बीच राहत की बात है कि पिछले कुछ दिनों से नए मामलों में गिरावट आई है. कोविड-19 की तीसरी लहर में रोजाना 2 लाख से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं, लेकिन इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि भारत में फिलहाल फुल लॉकडाउन (Lockdown in India) लगाने की जरूरत नहीं है.

‘लॉकडाउन और ट्रैवल बैन पहुंचा सकते हैं नुकसान’

डब्ल्यूएचओ (WHO) के भारत में प्रतिनिधि रॉड्रिको एच. ऑफ्रिन का कहना है कि भारत जैसे देश में कोरोना को फैलने से रोकने के लिए फुल लॉकडाउन लगाने और ट्रैवल बैन करने जैसे कदम नुकसान पहुंचा सकते हैं. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच जान और रोजगार, दोनों ही बचाना जरूरी है.

‘रिस्क के हिसाब से बनानी चाहिए स्ट्रैटजी’

रॉड्रिको एच. ऑफ्रिन (Roderico H. Ofrin) ने सुझाव दिया कि कोरोना वायरस महामारी से लड़ने के लिए रिस्क के हिसाब से बैन लगाने की स्ट्रैटजी बनानी चाहिए. उन्होंने कहा कि डब्ल्यूएचओ (WHO) यात्रा प्रतिबंध की सिफारिश नहीं करता है और न ही लोगों की आवाजाही पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने पर जोर देता है.

चार सवालों से तय हो एक्शन प्लान

डब्ल्यूएचओ के प्रतिनिधि रॉड्रिको एच. ऑफ्रिन ने कहा कि भारत और दुनियाभर में पब्लिक हेल्थ एक्शन तय करने के लिए चार सवालों के जवाब जानने चाहिए. पहला- कोरोना वायरस का नया वेरिएंट कितना संक्रामक है. दूसरा- नए वेरिएंट से कितनी गंभीर बीमारी होती है. तीसरा- वैक्सीन और पिछले कोरोना संक्रमण कितना प्रोटेक्शन दे रहे हैं. और चौथा- आम लोग खतरे को कैसे देखते हैं और इसे रोकने के उपायों को कैसे फॉलो करते हैं

लॉकडाउन का फायदा कम और नुकसान ज्यादा’

ऑफ्रिन ने बताया कि फुल लॉकडाउन लगाने का फायदा कम होता है और इसका नुकसान ज्यादा होता है, क्योंकि संक्रमण रोकने के लिए लगाए जाने वाले प्रतिबंध से बहुत ज्यादा आर्थिक नुकसान होता है. उन्होंने कहा कि भारत जैसे देश में जहां आबादी के बंटवारे में इतनी विविधता है, वहां महामारी से लड़ने के लिए रिस्क-बेस्ड अप्रोच को फॉलो करना समझदारी लगती है.

लगातार कम हो रहे हैं कोरोना के नए मामले

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, भारत में 24 घंटे में कोरोना वायरस के 2,38,018 नए मामले सामने आए और लगातार तीसरे दिन कोविड-19 के मामलों में गिरावट देखी गई. इससे पहले रविवार को 2.58 लाख केस, जबकि शनिवार को 2.71 लाख केस मिले थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button