विदेश

ट्रक आंदोलन के चलते कनाडा की राजधानी में आपातकाल, मेयर बोले- अब दखल जरूरी, देश भर में फैल रहा आंदोलन

कनाडा की राजधानी ओटावा में ट्रक वालों के आंदोलन के चलते आपातकाल घोषित कर दिया गया है। ट्रक वालों के आंदोलन का आज 10वां दिन है।

Advertisements
AD
कनाडा की राजधानी ओटावा में ट्रक वालों के आंदोलन के चलते आपातकाल घोषित कर दिया गया है। ट्रक वालों के आंदोलन का आज 10वां दिन है। रविवार को ओटावा शहर के मेयर जिम वॉटसन ने आपातकाल लगाने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि शहर को घेरकर किए जा रहे आंदोलन के चलते यह फैसला लिया गया है। उन्होंने अपने बयान में कहा, ‘आपातकाल घोषित किए जाने से साफ है कि किस तरह का गंभीर खतरा लोगों की सुरक्षा और सेफ्टी को है। ऐसे मौके पर कुछ सख्त कदम उठाने की जरूरत है ताकि लोगों की मदद की जा सके।’ शहर को आंदोलनकारी ट्रक वालों ने 28 जनवरी से ही घेर रखा है। आंदोलनकारियों ने फ्रीडम कॉनवॉय 2022 के नाम से प्रदर्शन शुरू किया है। इन आंदोलनकारियों का कहना है कि जब तक सरकार वैक्सीन की अनिवार्यता को खत्म नहीं करती है, तब तक वे आंदोलन जारी रखेंगे। यही नहीं कोरोना संकट से निपटने के लिए लॉकडाउन जैसी पाबंदियों का भी ये विरोध कर रहे हैं। बीते दिनों कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडों भी आंदोलनकारियों के चलते राजधानी छोड़कर सीक्रेट लोकेशन पर निकल गए थे। अब तक ट्रक वालों ने ओटावा को खाली करने के संकेत नहीं दिए हैं। अब ओटावा के मेयर ने केंद्र सरकार से इस मामले में दखल की मांग की है।

ओटावा के मेयर बोले- अब दखल जरूरी, देश भर में फैल रहा आंदोलन

एक टीवी चैनल से बात करते हुए वॉटसन ने कहा कि अब इस मामले में दखल दिए जाने की जरूरत है। केंद्र सरकार को मध्यस्थता कर इसे खत्म कराना चाहिए क्योंकि अब यह पूरे देश में फैल रहा है। बीते सप्ताह आंदोलनकारियों  के हमले के बाद से ही जस्टिन ट्रूडो सीक्रेट लोकेशन से काम कर रहे हैं। सुरक्षा का हवाला देते हुए वह अलग हैं। यही नहीं बीते रविवार को उन्होंने खुद को कोरोना होने की भी पुष्टि की थी। इस बीच ओटावा में रविवार को ‘फ्रीडम कॉन्वॉय’ प्रदर्शनों के दौरान सात लोगों को गिरफ्तार किया गया तथा कई वाहन और ईंधन जब्त किए गए।

ओटावा में 7 लोगों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, कई वाहन जब्त

पुलिस ने सोमवार को एक बयान में बताया कि रविवार सुबह एक व्यक्ति को निषिद्ध होने के बावजूद वाहन चलाने के लिए जबकि एक अन्य व्यक्ति को ‘पुराने शहर में कारोबारी संपत्ति के नुकसान से संबंधित उपद्रव’ के लिए गिरफ्तार किया गया। दिन में बाद में पांच और लोगों को उपद्रवों के लिए गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने कहा, ‘कई वाहन जब्त किए गए हैं तथा विभिन्न उल्लंघनों के लिए वाहन चालकों को 100 से अधिक टिकट जारी किए गए हैं। कन्फेडरेशन पार्क को पूरी तरह से साफ कर दिया गया है और बाड़ लगा दी गई है।’ पुलिस ने बताया कि प्रदर्शन से संबंधित 60 से अधिक आपराधिक जांच चल रही है। वे मुख्य रूप से उपद्रव, चोरी, नफरत पर आधारित अपराध और संपत्ति के नुकसान के लिए हैं। इससे पहले रविवार को, ओटावा पुलिस ने ट्विटर पर चेतावनी दी थी कि प्रदर्शनकारियों को ईंधन जैसी सहायता देने का प्रयास करने वालों को गिरफ्तार किया जा सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button