खेल जगत

टीम इंडिया के इस बल्लेबाज में दिखता है सचिन का अक्स

टीम इंडिया (Team India) के एक खिलाड़ी के साथ सेलेक्टर्स लगातार नाइंसाफी कर रहे हैं. सेलेक्टर्स हर सीरीज में उस खिलाड़ी को लगातार बाहर रख रहे हैं,

 टीम इंडिया (Team India) के एक खिलाड़ी के साथ सेलेक्टर्स लगातार नाइंसाफी कर रहे हैं. सेलेक्टर्स हर सीरीज में उस खिलाड़ी को लगातार बाहर रख रहे हैं, जिसे देखकर लगता है कि सेलेक्टर्स ने उस खिलाड़ी को दूध में से मक्खी की तरह निकाल बाहर फेंका. सेलेक्टर्स ने जिस बल्लेबाज को नजरअंदाज किया है, वह रोहित शर्मा से भी तूफानी बैटिंग में माहिर है. सेलेक्टर्स इस खिलाड़ी को लगातार नजरअंदाज कर रहे हैं. ये खिलाड़ी और कोई नहीं बल्कि टीम इंडिया के विस्फोटक ओपनर पृथ्वी शॉ हैं.

सचिन-सहवाग का कॉम्बो

पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी में पूर्व विस्फोटक ओपनर वीरेंद्र सहवाग और महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर की झलक देखने को मिलती है. पृथ्वी शॉ की बैटिंग के अंदाज में सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग का कॉम्बो देखने को मिला है. सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग भी शुरुआत के ओवरों से तहलका मचाते थे और जमकर रन लूटते थे. बता दें कि भारत के पूर्व कोच रवि शास्त्री कह चुके हैं कि पृथ्वी शॉ में सहवाग, सचिन और लारा की झलक दिखती है. 22 साल के युवा ओपनर पृथ्वी शॉ आक्रामक बल्लेबाज हैं. पृथ्वी बिना किसी डर के जमकर रन लूटते हैं. पृथ्वी शॉ को ज्यादा से ज्यादा मौके मिले तो वह दुनिया के किसी भी कोने में रन बना सकते हैं. 

रोहित शर्मा से भी विस्फोटक है बैटिंग

सेलेक्टर्स पृथ्वी शॉ जैसे धाकड़ ओपनर को लगातार नजरअंदाज करते आ रहे हैं. पृथ्वी शॉ मौजूदा समय में दुनिया के सबसे खतरनाक युवा बल्लेबाजों में से एक हैं. पृथ्वी शॉ को सेलेक्टर्स लगातार बाहर रख रहे हैं. आने वाले दिनों में टीम इंडिया को एक नए ओपनिंग बल्लेबाज की जरूरत होगी. ये जिम्मा युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ संभाल सकते हैं. शॉ के बल्ले ने घरेलू और आईपीएल में जो सनसनी फैलाई है उसकी गूंज पूरी दुनिया ने सुनी है. सिर्फ 22 साल का ये बल्लेबाज टीम इंडिया का भविष्य है. उनकी बल्लेबाजी ने हर किसी का दिल जीता है. 

तीनों ही फॉर्मेट्स में चली गई जगह 

पृथ्वी शॉ भारत के लिए तीनों ही फॉर्मेट्स में क्रिकेट खेल चुके हैं, लेकिन अब तीनों ही फॉर्मेट्स में उनकी जगह छिन गई है. पृथ्वी शॉ ने भारत के लिए 5 टेस्ट मैचों में 339 रन बनाए हैं. पृथ्वी शॉ ने 6 वनडे मैचों में 189 रन बनाए हैं. 53 IPL मैचों में पृथ्वी शॉ ने 1305 रन बनाए हैं. टेस्ट में पृथ्वी शॉ के नाम 1 शतक है.

पृथ्वी शॉ ने अपनी प्रतिभा के दम पर सारी दुनिया में अपना डंका बजाया था. उनके तरकश में हर वो तीर मौजूद है, जो विरोधी टीम को धराशाई कर सके. पृथ्वी शॉ को इस साल दिल्ली कैपिटल्स ने 7.5 करोड़ में रिटेन किया था. पृथ्वी शॉ सहवाग की तरह एक शानदार खिलाड़ी है. सहवाग जीनियस प्लेयर थे, जो खेल को आगे ले जाते थे. पृथ्वी शॉ अभी युवा हैं. उनसे इतनी ज्यादा उम्मीदें रखना गलत है. अभी उन्हें और वक्त चाहिए. ऑस्ट्रेलिया में उनका पहला मौका था, लेकिन बदकिस्मती से वह एडिलेड टेस्ट में चूक गए. यह उनका पहला ऑस्ट्रेलिया दौरा था. अंडर-19 वर्ल्ड कप में दमदार प्रदर्शन के बाद पृथ्वी शॉ को साल 2018 में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू का मौका मिला था. इस खिलाड़ी ने टीम इंडिया के लिए कुछ मौकों पर शानदार पारियां भी खेली लेकिन निरंतरता के अभाव के चलते फिलहाल यह खिलाड़ी टीम इंडिया से बाहर चल रहा है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button