विदेश

रूस और यूक्रेन के बीच जारी हालिया विवाद के बीच पाकिस्तान के PM इमरान खान आज रूस दौरे पर

रूस और यूक्रेन के बीच जारी हालिया विवाद के बीच पाकिस्तान के PM इमरान खान आज रूस दौरे पर जा रहे हैं।

रूस और यूक्रेन के बीच जारी हालिया विवाद के बीच पाकिस्तान के PM इमरान खान आज रूस दौरे पर जा रहे हैं। पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के मुताबिक, 23 से 24 फरवरी तक के इस दौरे में इमरान रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ मास्को में बैठक करेंगे।

पाकिस्तान के लिए ये दौरा काफी अहम माना जा रहा है। 1999 के बाद पहली बार कोई पाकिस्तानी प्रधानमंत्री रूस के दौरे पर जा रहा है। इससे पहले मार्च 1999 में तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ रूस गए थे। पाकिस्‍तान में तेल की कीमतों में भारी इजाफे की वजह से वहां की आवाम मुसीबतों का सामना कर रही है। वहीं, इमरान दूसरे देशों से कर्ज लेकर पाकिस्तान की अर्थव्‍यवस्‍था दुरुस्‍त करने में जुटे हुए हैं।

माना जा रहा है पहले से ही विदेशी कर्ज में डूबा पाकिस्तान रूस से कर्ज की मांग कर सकता है। वहीं, विदेश मामलों के एक्सपर्ट्स का कहना है कि पुतिन अपने प्रोपेगेंडा को बढ़ाने के लिए इमरान की मौजूदगी का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। इमरान के साथ इस दौरे में एक उच्च स्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी शामिल होगा।

इन मुद्दों पर होगी चर्चा

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि पुतिन और खान के बीच ऊर्जा सहयोग सहित द्विपक्षीय संबंधों पर चर्चा होगी। दोनों देश इस्लामोफोबिया और अफगानिस्तान की स्थिति सहित प्रमुख क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान करेंगे। हालांकि, बयान में यूक्रेन मामले का कोई जिक्र नहीं है।

अमेरिका से संबंध बिगड़ने के आसार माना जा रहा है कि पाकिस्तान और रूस के बीच किसी नई ट्रेड डील या साझेदारी के बाद पाकिस्तान के साथ अमेरिका के संबधों में कड़वाहट आ सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि यूक्रेन के दो प्रांतों (लुहांस्क-डोनेट्स्क) को अलग देश का दर्जा देने के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रूस पर प्रतिबंध लगाने का ऐलान किया है।

वहीं, ब्रिटेन ने रूस के पांच बैंकों पर पाबंदियां लगा दी हैं। जर्मनी ने भी नॉर्ड स्ट्रीम नैचुरल गैस प्रोजेक्ट फेस 2 को फिलहाल बंद करने का ऐलान किया है।

यूक्रेन मसले का शांतिपूर्ण समाधान चाहते हैं इमरान दौरे से पहले रूस के सरकारी टेलीविजन नेटवर्क आरटी के साथ इस्लामाबाद में हुए एक टीवी इंटरव्यू में इमरान ने कहा कि सभी मुद्दों को बातचीत के जरिए सुलझाया जा सकता है। इमरान ने शांतिपूर्ण तरीकों से रूस और यूक्रेन के बीच संघर्ष के समाधान की उम्मीद जताई। उन्होंने कहा कि वह सैन्य संघर्ष में विश्वास नहीं रखते।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button