विदेश

अमेरिका राष्‍ट्रपति जो बाइडेन के कोविड वैक्‍सीन जनादेश को लेकर बंटा सुप्रीम कोर्ट

अमेरिका के राष्‍ट्रपति जो बाइडेन ने सितंबर में घोषणा की थी कि वह उन कंपनियों में वैक्‍सीनेशन अनिवार्य करने जा रहे हैं जिनमें 100 या इससे ज्‍यादा श्रमिकों को रोजगार मिल रहा है.

अमेरिका राष्‍ट्रपति जो बाइडेन के कोविड वैक्‍सीन जनादेश को लेकर बंटा सुप्रीम कोर्ट

अमेरिका के राष्‍ट्रपति जो बाइडेन ने सितंबर में घोषणा की थी कि वह उन कंपनियों में वैक्‍सीनेशन अनिवार्य करने जा रहे हैं जिनमें 100 या इससे ज्‍यादा श्रमिकों को रोजगार मिल रहा है.

वाशिंगटन : 

अमेरिकी सुप्रीम कोर्ट (US Supreme Court)  शुक्रवार को राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) के व्‍यवसायों के लिए कोविड वैक्‍सीनेशन या टेस्टिंग जनादेश (Covid Vaccine Mandate) को लेकर बंटा नजर आया. उदारवादी न्यायाधीश मजबूती से पक्ष में और कंजर्वेटिव न्‍यायाधीशों ने इस पर संदेह व्‍यक्‍त किया. हालांकि नौ न्यायाधीशों में से अधिकांश ने संघीय वित्त पोषण प्राप्‍त करने वाली सुविधाओं में स्वास्थ्य कर्मियों (Healthcare Workers) को उनके शॉट्स देने के प्रशासन के फैसले की जरूरत का समर्थन किया. 

अमेरिका में लोगों से कोविड -19 के खिलाफ वैक्‍सीन लगवाने की अपील के महीनों हो चुके हैं और अब तक अमेरिका में 8,30,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. बाइडेन ने सितंबर में घोषणा की थी कि वह उन कंपनियों में वैक्‍सीनेशन अनिवार्य करने जा रहे हैं, जिनमें 100 या इससे ज्‍यादा श्रमिकों को रोजगार मिल रहा है. 

वैक्‍सीन नहीं लगवाने वाले कर्मचारियों को हर साप्ताहिक नेगेटिव टेस्‍ट रिपोर्ट पेश करनी होगी और काम पर फेस मास्क पहनना होगा. एक संघीय एजेंसी व्यावसायिक सुरक्षा और स्वास्थ्य प्रशासन (ओएसएचए) ने कंपनियों को 9 फरवरी तक नियमों का पालन करने या जुर्माने की संभावना का सामना करने का समय दिया है. 

अमेरिका में वैक्‍सीनेशन राजनीतिक रूप से ध्रुवीकरण का मुद्दा बन गया है, जहां 62 फीसद आबादी का टीकाकरण किया गया है. 26 व्यापार संघों के एक गठबंधन ने OSHA नियमों के खिलाफ मुकदमा दायर किया है, जिसके बाद कंजर्वेटिव प्रभुत्‍व वाला सुप्रीम कोर्ट आपातकालीन सुनवाई करने और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के लिए वैक्सीन जनादेश के बारे में तर्क सुनने पर सहमति व्यक्त की, जिसे रिपब्लिकन राज्यों के सांसदों द्वारा चुनौती दी जा रही है. 

अदालत में तीन उदार न्यायाधीशों ने दोनों जनादेशों का पुरजोर समर्थन किया. न्यायमूर्ति एलेना कगन ने नीति का विरोध करने वाले व्यावसायिक संघों का प्रतिनिधित्व करने वाले वकील से पूछा, “गंभीर जोखिम को कम करने के लिए यह आवश्यक क्यों नहीं है?”  उन्‍होंने कहा, “यह एक महामारी है जिसमें लगभग दस लाख लोग मारे गए हैं.” उन्‍होंने कहा “यह अब तक का सबसे बड़ा सार्वजनिक स्वास्थ्य खतरा है जिसका सामना इस देश ने पिछली सदी में किया है.”

व्यापार समूहों का प्रतिनिधित्व करने वाले टेक्सास के एक पूर्व सॉलिसिटर जनरल स्कॉट केलर ने कहा कि 100 या अधिक लोगों को रोजगार देने वाली कंपनियों में कोविड टीकाकरण की आवश्यकता कई श्रमिकों को कंपनी छोड़ने के लिए प्रेरित करेगा

अमेरिका में 100 या अधिक कर्मचारियों वाले व्यवसाय निजी क्षेत्र के कर्मचारियों के करीब दो-तिहाई या लगभग 8 करोड़ लोगों का प्रतिनिधित्व करते हैं. हेल्‍थकेयर वर्कर जनादेश करीब एक करोड़ लोगों पर लागू होगा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button