उत्तर प्रदेशदेशबहराइचब्रेकिंग न्यूज़

बहराइच में लगातार बारिश से नदियों का जलस्तर बढ़ा, 5 दर्जन से अधिक गांव बाढ़ से प्रभावित

बहराइच में लगातार हो रही भीषण बारिश और नेपाली नदियों का पानी आने के कारण सरयू नदी उफान पर है।

बहराइच में लगातार हो रही भीषण बारिश और नेपाली नदियों का पानी आने के कारण सरयू नदी उफान पर है। सरयू नदी के उफनाने से जिले की मिहींपुरवा, महसी और नानपारा तहसीलों के 5 दर्जन से अधिक गांव बाढ़ की चपेट में हैं। गांव में बाढ़ का पानी घुस गया है। बाढ़ पीड़ित बदहाल जिंदगी जीने को विवष है।

कई दिनों से हो रही भीषण बारिश और नेपाली नदियों का पानी आने के चलते जिले में सरयू और घाघरा नदी उफाना गई है। नदियों का जलस्तर बढ़ने के कारण जिले की 3 तहसीलों मिहींपुरवा, नानपारा और महसी तहसील के दर्जनों गांव बाढ़ से प्रभावित हो गए हैं। दर्जनों गांवों में बाढ़ का पानी घुस जाने के कारण बाढ़ पीड़ितों के समक्ष विकट स्थिति उत्पन्न हो गई है। बाढ पीड़ितों के पास न खाने को अनाज बचा है, ना पशुओं के लिए चारा, नाही सोने के लिए बिस्तर बचा है। हालात यह है कि बाढ़ में फंसे बाढ़ पीड़ितों को सुरक्षित ठिकानों पर पहुंचाने के लिए नाव तक के प्रबंध नहीं है। मिहींपुरवा तहसील क्षेत्र के अनेकों बाढ़ पीड़ितों ने बताया कि प्रशासन द्वारा बाढ़ पीड़ितों के लिए किसी तरह के कोई प्रबंध नहीं किए गए हैं। बाढ़ पीड़ित अपने संसाधनों से किसी तरह से सुरक्षित स्थानों पर पलायन कर रहे हैं। दर्जनों मकान और सैकड़ों बीघा फसल कटकर धारा में विलीन हो चुकी है। वहीं दूसरी ओर जिलाधिकारी बचाव और राहत कार्य युद्ध स्तर पर चलाने की बात कह रहे हैं। जिलाधिकारी दिनेश चंद्र और पुलिस अधीक्षक केशव कुमार चौधरी ने बाढ़ पीड़ित क्षेत्रों का दौरा कर बचाव और राहत कार्य तेज करने के निर्देश दिए हैं। जिलाधिकारी डॉ दिनेश चंद ने बताया कि अतिवृष्टि के कारण जिले की तीन तहसीलों मिहींपुरवा, महसी और नानपारा के करीब 60 से अधिक गांव बाढ़ से प्रभावित हैं। उन्होंने बताया कि तत्काल सभी अधिकारियों के समन्वय से बचाव और राहत कार्य शुरू कर दिए गए हैं।

रिपोर्टर – सय्यद मसऊद कादरी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button