देशब्रेकिंग न्यूज़

क्या दिव्यांग विमल कुमार का सपना होगा पूरा

प्रशासनिक अधिकारी ने दिव्यांग के घर पहुंचकर चित्रों की प्रदर्शनी लगवाकर मदद का आश्वासन दिया

आज हम आपको एक ऐसे शख्स से रूबरू करा रहे हैं, जो दिव्यांग होते हुए भी एक बेहतरीन कला के माहिर हैं। गांधी जयंती पर इसी को देखते हुए प्रशासनिक अधिकारी ने दिव्यांग के घर पहुंचकर चित्रों की प्रदर्शनी लगवाकर मदद का आश्वासन दिया।

यह है विमल कुमार जो सम्भल के मोहल्ला हल्लू सराय में रहते हैं। वैसे तो इनका 50 प्रतिशत से अधिक शरीर बेजान है। इनके हौसले को माता पिता के प्यार ने किसी हाल में भी नहीं टूटने दिया है। 12 वर्ष पहले एक दुर्घटना ने इनको दिव्यांग बना दिया। परिवार और गुरुजनों के सहयोग से इन्होंने गले में पेंसिल बांधकर पेंटिंग बनाना शुरू किया। अब यह बेहतरीन पेंटिंग बनाकर तैयार कर लेते हैं। गांधी जयंती के उपलक्ष में विमल कुमार ने प्रशासनिक अधिकारियों को राष्ट्रीय पिता महात्मा गांधी की अपने द्वारा तैयार पेंटिंग भेंट की। इसी को देखते हुए एसडीएम विनय कुमार मिश्र दिव्यांग के घर पहुंचकर उसके द्वारा तैयार सभी पेंटिंगओं को देखते हुए दिव्यांग की जमकर प्रशंसा करते हुए आने वाले समय में तहसील परिसर में विमल कुमार द्वारा बनाई गई पेंटिंग की प्रदर्शनी लगाने का आश्वासन दिया। अब देखना है कि यह आश्वासन कितना कारगर साबित होगा क्योंकि 5 साल से पेंटिंग बना रहे विमल कुमार को अभी तक आर्थिक मदद की बजाए सिर्फ आश्वासन ही मिला है।

बाईट – विनय कुमार मिश्र, एसडीएम सम्भल

बाईट – विमल कुमार, दिव्यांग

रिपोर्टर – उवैस दानिश

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button