विदेश

बीजिंग ओलंपिक में यूक्रेन की एंट्री के वक्त सो रहे थे पुतिन?इस तस्वीर में उनकी आंखें बंद नजर आ रही हैं

हालांकि, उस वक्त ब्लादिमीर पुतिन सो रहे थे इस बात की पुष्टि नहीं हुई है। अपनी कुर्सी पर बैठे रूसी राष्ट्रपति की यह तस्वीर उस वक्त कैमरे में कैद जरूर हुई है

तो क्या बीजिंग ओलंपिक की ओपनिंग सेरोमनी के दौरान रूस के राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन अपने स्थान पर बैठे-बैठे सो गए थे? यह सवाल पुतिन की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर सामने आने के बाद उठ रही है। दरअसल इस तस्वीर में रूस के राष्ट्रपति काफी रिलैक्स मूड में नजर आ रहे हैं। उनकी इस तस्वीर को देख कर अंदाजा लगाया जा रहा है कि जब इस समारोह में यूक्रेन की एंट्री हुई तब उस वक्त ब्लादिमीर पुतिन अपनी सीट पर झपकी ले रहे थे।
इस तस्वीर में उनकी आंखें बंद नजर आ रही हैं। हालांकि, उस वक्त ब्लादिमीर पुतिन सो रहे थे इस बात की पुष्टि नहीं हुई है। अपनी कुर्सी पर बैठे रूसी राष्ट्रपति की यह तस्वीर उस वक्त कैमरे में कैद जरूर हुई है। जिसके बाद लोग अपनी-अपनी तरफ से कयास लगा रहे हैं। बता दें कि चीन की राजधानी बीजिंग में शीतकालीन ओलंपिक खेलों की शुरुआत हो चुकी है। इससे पहले रूस के राष्ट्रपति ब्लादीमिर पुतिन शुक्रवार को शीतकालीन ओलंपिक खेलों के उद्घाटन और चीन के राष्ट्रपति शि जिनपिंग से वार्ता के लिये बीजिंग पहुंच गए । यूक्रेन पर रूस के सैन्य हमले की आशंका के बीच चीन ने रूस का समर्थन किया है और ऐसे समय में पुतिन का यह दौरा काफी अहम हो गया है । अमेरिका और ब्रिटेन ने चीन के खराब मानवाधिकार रिकॉर्ड के कारण इन खेलों का राजनयिक बहिष्कार किया है।
पुतिन के यहां पहुंचने की पुष्टि रूस की सरकारी समाचार एजेंसी आरआईए ने की। चीन की समाचार एजेंसी शिन्हुआ द्वारा प्रकाशित पुतिन के लेख में कहा गया है कि रूस और चीन वैश्विक मामलों में और अंतरराष्ट्रीय मामलों को अधिक न्यायसंगत और समावेशी बनाने में महत्वपूर्ण स्थिर भूमिका निभायेंगे। पुतिन ने अमेरिका की अगुवाई में खेलों के राजनयिक बहिष्कार के संदर्भ में कहा कि अपनी आकांक्षाओं के लिये खेलों के राजनीतिकरण के कुछ देशों के प्रयासों की वह निंदा करते हैं ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button