उत्तर प्रदेशक्राइम न्यूज़देशपीलीभीतब्रेकिंग न्यूज़

पीलीभीत में महिला की इलाज के दौरान मौत परिजनों का हंगामा

पीलीभीत में रंजिश के चलते गर्भवती महिला और उसके पति से मारपीट के मामले में इलाज के दौरान महिला की मौत हो जाने पर मृतका के परिजन भड़क गए और शव का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया।

पीलीभीत में रंजिश के चलते गर्भवती महिला और उसके पति से मारपीट के मामले में इलाज के दौरान महिला की मौत हो जाने पर मृतका के परिजन भड़क गए और शव का अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया। वही पीड़ित परिजन आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद अंतिम संस्कार करने की बात कह रहे थे। सूचना पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स गांव पहुंच गई, पुलिस ने मृतका परिजनों को आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने का भरोसा दिलाया जिसके बाद शव का अंतिम संस्कार किया गया। वहीं पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर चालान कर दिया है।

बतादें कि थाना बिलसंडा क्षेत्र के महुलिया गांव के रहने वाले शिवकुमार का कहना है की गांव के रहने वाले भगवानदास से खेती को लेकर उसकी रंजिश चल रही है। शिव कुमार का आरोप है 10 नवंबर को वह अपनी पत्नी कमला देवी के साथ खेत से लौट रहा था, तभी भगवानदास और उसके बेटे सुशील व रामनाथ ने लाठी-डंडों और बांके से हमला कर घायल कर दिया था। मामले में पुलिस ने पीड़ित की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ NCR दर्ज कर पीड़िता को CHC बिलसंडा में भर्ती कराया था। हालत गंभीर देख डॉक्टर ने पीड़िता को जिला अस्पताल रेफर कर दिया था।

जहां इलाज के दौरान 18 तारीख की रात में सुशीला देवी की मौत हो गई पीड़ित परिजनों के तहरीर पर पुलिस ने भगवानदास, सुशील,रामनाथ के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर भगवानदास को गिरफ्तार कर लिया है। वही मृतका के परिजनों ने अंतिम संस्कार करने से इंकार कर दिया और पुलिस से अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग के बाद अंतिम संस्कार करने की बात कह रहे थे। जिस पर पुलिस ने पीड़ित को अन्य आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने का भरोसा दिलाया जिसके बाद पीड़ित परिजनों ने शव का अंतिम संस्कार किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button