देश

पत्नी से परेशान लोगों के लिए आश्रम खुला पत्नी से परेशान लोगों की समस्या सुनी जाती है.

आज हम आपको एक ऐसे आश्रम के बारे में बताएंगे, जहां किसी धर्म या आध्यात्मिक शिक्षा नहीं दी जाती

आपने कई आश्रम और तपस्या स्थलों के बारे में सुना होगा, जहां आध्यात्मिक गुरु लोगों को ज्ञान देते हैं. कई आश्रम में तो बच्चों को पढ़ाया भी जाता है. लेकिन आज हम आपको एक ऐसे आश्रम के बारे में बताएंगे, जहां किसी धर्म या आध्यात्मिक शिक्षा नहीं दी जाती, बल्कि पत्नी से परेशान लोगों की समस्या सुनी जाती है. सुनने में ये काफी अजीब लग रहा होगा लेकिन बिल्कुल सच है.

महाराष्ट्र के औरगांबाद में है आश्रम

जानकारी के अनुसार ये आश्रम महाराष्ट्र के औरगांबाद जिले से 12 किलोमीटर की दूरी पर शिरड़ी मुंबई हाईवे पर स्थित है. ये आश्रम केवल ऐसे लोगों के लिए खुला है जो पत्नी से परेशान होते हैं. इस आश्रम मे सलाह लेने वालों की संख्या आए दिन बढ़ती जा रही है.

पत्नी से परेशान लोगों को दी जाती है सलाह

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यहां अब तक 500 लोग सलाह ले चुके हैं. हाईवे से देखने में ये एक छोटा सा एक कमरा लगता है लेकिन अंदर जाते है ही एक आश्रम की जैसे लगता है. कमरे के अंदर जाते ही एक ऑफिस बना है जहां पर पत्नी से परेशान लोगों को सलाह दी जाती है.  हर रोज सुबह-शाम अगरबत्ती लगाकर उसकी पूजा की जाती है. हर शनिवार, रविवार की सुबह 10 से शाम 6 बजे तक पत्नी-पीडितों की काउंसलिंग की जाती है.

प्रसाद में बनती है खिचड़ी

इस आश्रम में छत्तीसगढ़, गुजरात, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश से कई लोग सलाह लेने के लिए आ रहे है. इतना ही नहीं आश्रम में रहने वाले लोग खिचड़ी सब्जी दाल बनाते है. जो भी पुरूष आश्रम में सलाह लेने आता है उसको खिचड़ी खिलाई जाती है. आश्रम में A B C तीन कैटेगरी बनाई हैं, जो पुरूष पत्नी और ससुरालवालों से परेशान है वो A कैटेगरी में आता है. इसी तरह इससे कम परेशान लोगों को B और C कैटेगरी में रखा जाता है.  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button