देश

सिर्फ स्कैन करने से पता चल जाएगी पेड़ की सारी डिटेल्स

जब भी आप घर से बाहर निकलते होंगे, तो कई सारे पेड़ पौधों को देख कर आप जानना चाहते होंगे की आखिर उनका नाम क्या होगा या फिर वो पेड़ कितना पुराना होगा. अब आप एक स्कैन करके पेड़ों की जानकारी ले पाएंगे. आइए बताते हैं कैसे.

आपने अब तक कई पेड़ देखे होंगे जिनकी उम्र बहुत ज्यादा होती है और उनमें कई खासियत भी होती है. लेकिन कई बार किसी पेड़ को देखकर उसके नाम या उसकी खासियत जानने को लेकर आपकी जिज्ञासा काफी जागती होगी. इसी जिज्ञासा को पूरी करने के लिए एनडीएमसी (नई दिल्ली पालिका परिषद) ने पेड़ों पर ऐसा क्यूआर कोड लगाना शुरू किया है, जिसे स्कैन करने पर उस पेड़ की सारी जानकारी आपके मोबाइल पर आ जाएगी.

क्यूआर कोड स्कैन करते ही मिलेगी पेड़ की जानकारी

इससे आपको किसी भी पेड़ की जानकारी लेने के लिए सोचना नहीं पड़ेगा. बस गूगल लेंस के सहारे क्यूआर कोड स्कैन करते ही उस पेड़ से संबंधित सभी जानकारी आपको मिल जाएगी. नई दिल्ली में आपने अब तक जिन पेड़ों को हरियाली बिखेरते देखा होगा वो पेड़ अब आपको अपनी जानकारी भी बस एक स्कैन करने पर दे देंगे. एनडीएमसी लगभग 4 हजार पेड़ों पर क्यूआर कोड लगा रहा है.

इस पहल से बढ़ेगा पेड़ो के प्रति लगाव

एनडीएमसी का ये कदम बेहद कारगर साबित होगा. इस पहल से सिर्फ आपकी जानकारी ही नहीं बल्कि आपका पेड़ो के प्रति लगाव भी बढ़ेगा. आपको सभी पेड़ो से मिलने वाले फायदों का भी पता चलेगा. जिन पेड़ों पर यह क्यूआर कोड लगाए जाएंगे उन पेड़ों के क्यूआर कोड को अगर आप स्कैन करते हैं तो आपको उस पेड़ की उम्र, उसका वैज्ञानिक नाम, उस पेड़ पर कौन से फूल खिलते हैं, उसके फूल का रंग कौन सा होता है, उस पेड़ के लिए अच्छा मौसम कौन सा है यह पूरी जानकारी आपको मिनटों में मिल जाएगी.

एनडीएमसी ने उठाया पर्यावरण की सुरक्षा के लिए कदम 

इससे पहले भी एनडीएमसी ने पर्यावरण की सुरक्षा को लेकर कई सारे कदम उठाए हैं. 20 नवंबर 2021 को स्वच्छ सर्वेक्षण के अंतर्गत एनडीएमसी को एक से तीन लाख की श्रेणी में देश के सबसे स्वच्छ शहर की पहली रैंकिंग के पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.  

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button