देश

भारतीय रेलवे के ये नियम जाने नहीं तो सफर में होगी परेशानी

रेलवे के कुछ नियम सभी यात्रियों को पता होने चाहिए, जिससे सफर के दौरान उन्हें किसी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े. तो आइए बताते हैं उन नियमों के बारे में.

रेलवे को देश की लाइफ लाइन कहा जाता है. ये भारतीय रेल (Indian Railway) ही है जो रोजाना करोड़ों लोगों को एक पूर्व से पश्चिम और उत्तर से दक्षिण की सैर कराती है. ऐसे में रेलवे के कुछ नियम सभी यात्रियों को पता होने चाहिए, जिससे सफर के दौरान उन्हें किसी तरह की परेशानी का सामना ना करना पड़े. तो आइए बताते हैं उन नियमों के बारे में.

Indian Railway Rules

भारतीय रेलवे के इन नियमों के बारे में सभी को जानकारी होनी चाहिए. 1.कई बार टिकट ना मिलने पर आप किसी और स्टेशन से टिकट ले सकते हैं लेकिन आपका Boarding स्टेशन वही होना चाहिए, जिससे आपको चढ़ना है. आपसे यात्रा का शुल्क वहां से ही वसूला जाएगा जहां से आपका टिकट बना है. लेकिन, आपको इससे confirm टिकट मिल जाता है. इसके साथ ही अगर आपकी ट्रेन निर्धारित स्टेशन से पहले रुक जाती है तो आपको ऐसी हालत में रिफंड मिल जाएगा. इसके साथ ही यात्रियों को वैकल्पिक यात्रा का साधन भी दिया जाता है. 2. अगर आपकी ट्रेन छूठ जाती है तो TTE अगले दो स्टेशन तक उस सीट को किसी भी यात्री को अलॉट को नहीं कर सकता है. इसके बाद वह किसी अन्य यात्री को खाली सीट अलॉट कर सकता है. अलगे दो स्टेशन तक आपके पास उस सीट का अधिकार होता है. तीसरे स्टेशन से वह अधिकार खत्म हो जाता है.   3.अगर किसी कारण से आपकी ट्रेन छूट गई है तो आप ऐसी स्थिती में रिफंड क्लेम कर सकते हैं. इसके लिए आपको Ticket Deposit Receipt फाइल करना पड़ेगा. उसके बाद अपने टिकट किराऐ का 50% तक आपको रिफंड कर दिया जाएगा. 4.ट्रेन में मिडिल बर्थ में भी सोने का एक तय नियम है. इसके अनुसार आप रात में 10 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक ही मिडिल बर्थ खोल कर सो सकते हैं. इसके बाद आपको बर्थ नीचे करनी होगी ताकि बाकी यात्री बैठकर यात्रा कर सकें.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button